DA Image
4 जून, 2020|4:28|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन के दौरान 9.65 करोड़ किसानों के खातों में 19,000 करोड़ डाले गए

farmers   pti file photo

सरकार ने लॉकडाउन अवधि के दौरान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि (पीएम-किसान) के तहत 9.65 करोड़ किसानों के बैंक खातों में 19,000 करोड़ रुपए से अधिक की राशि डाली है। इस योजना की घोषणा पिछले साल फरवरी में की गई थी। योजना के तहत 14 करोड़ किसानों को तीन बराबर किस्तों में 6,000 रुपए दिए जाएंगे। कृषि मंत्रालय ने बयान में कहा, ''पीएम-किसान के तहत लॉकडाउन शुरू होने यानी 24 मार्च से अब तक 9.65 करोड़ किसान परिवारों के खातों में 19,100.77 करोड़ रुपए की राशि डाली गई है।"

खरीफ यानी गर्मियों में बोई जाने वाली फसलों के आंकड़ों का ब्योरा देते हुए कृषि मंत्रालय ने कहा कि अभी तक 34.87 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई की गई है। पिछले साल की समान अवधि में यह आंकड़ा 25.29 लाख हेक्टेयर था। अभी तक दलहन की बुवाई 12.80 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में की गई है, पिछले साल समान अवधि तक यह आंकड़ा 9.67 लाख हेक्टेयर था।

कोरोना संक्रमण की बढ़ती संख्या ने बढ़ाई चिंता, 7 दिन में सामने आए 36,485 नए पॉजिटिव केस

इसी तरह मोटे अनाज की बुवाई 10.28 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में की गई है। पिछले साल की समान अवधि में 7.30 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बुवाई हुई थी। इसी तरह तिलनह की बुवाई का क्षेत्रफफल 7.34 लाख हेक्टेयर से बढ़कर 9.28 लाख हेक्टेयर हो गया है। बयान में कहा गया है कि लॉकडाउन के दौरान नाफेड ने 5.89 लाख टन चने, 4.97 लाख टन सरसों और 4.99 लाख टन तूअर (अरहर) की खरीद की है।

सरकार कृषि-छोटे उद्योग क्षेत्र का गठन करेगी :गडकरी
वहीं, केंद्रीय सूक्ष्म, लघु और मध्यम मंत्री नितिन गडकरी ने शुक्रवार (22 मई) को कहा कि सरकार 'कृषि छोटे उद्योग- एग्रो एमएसएमई' की एक नई श्रेणी बनाने पर विचार कर  रही है, जिसमें ग्राम पंचायत स्तर पर छोटे उद्योग लगेंगे और संबंधित गाँव के विकास में योगदान देंगे। गडकरी ने कॉन्फ़ेडरेशन ऑफ़ ऑल इंडिया ट्रेडर्स की 57 वीं वीडियो कॉन्फ्रेंस को सम्बोधित करते हुए कहा, "कोविड लॉकडाउन के बाद देश में व्यापार करने का तौर तरीका पूरी तरह से परिवर्तित हो जाएगा और नवीन दृष्टि, उद्यमिता, ज्ञान, डिजिटल प्रौद्योगिकी देश में भविष्य के व्यापार के चार बुनियादी स्तम्भ होंगे। इसलिए भारतीय व्यापारियों को पारंपरिक व्यापारिक प्रणाली के स्थान डिजिटल प्रणाली को बहुत तेजी से अपनाना होगा।" इस सम्मेलन में सभी राज्यों के 100 से अधिक प्रमुख व्यापारी नेता शामिल थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Under PM KISAN over Rs 19100 crore released during Coronavirus lockdown