ULFA I claims responsibility for Republic Day Assam blasts - गणतंत्र दिवस पर 10 मिनट में चार धमाकों से दहला असम, उल्फा (आई) ने ली जिम्मेदारी DA Image
21 फरवरी, 2020|2:21|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गणतंत्र दिवस पर 10 मिनट में चार धमाकों से दहला असम, उल्फा (आई) ने ली जिम्मेदारी

assam blast

प्रतिबंधित संगठन उल्फा (इंडिपेंडेंट) ने असम में गणतंत्र दिवस समारोह से पहले हुए चार शक्तिशाली विस्फोटों की जिम्मेदारी ली है। इसमें अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है। उल्फा (आई) ने उसके प्रचार विभाग के जॉय असोम द्वारा हस्ताक्षरित एक बयान में दावा किया कि इन चारों विस्फोटों को संगठन द्वारा अंजाम दिया गया है।

असम के डिब्रूगढ़ और चराइदेव जिलों में रविवार (26 जनवरी) को सुबह चार शक्तिशाली विस्फोट हुए। पुलिस ने बताया कि तीन विस्फोट डिब्रूगढ़ में और एक विस्फोट चराइदेव में हुआ। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि सभी विस्फोट सुबह सवा आठ बजे से आठ बजकर 25 मिनट के बीच 10 मिनट के अंतराल पर हुए।

उन्होंने बताया कि इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है क्योंकि गणतंत्र दिवस का अवकाश होने के कारण ज्यादातर लोग घरों में ही थे। पहला विस्फोट चराइदेव जिले के सोनारी पुलिस थाने के तहत आने वाले तिओकघाट इलाके में एक दुकान के बाहर हुआ।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (एएसपी) पद्मनाभ बरुआ ने 'पीटीआई-भाषा' को बताया इसके बाद डिब्रूगढ़ जिले में तीन विस्फोट हुए। दो विस्फोट ग्राहम बाजार में और एक एटी रोड पर एक गुरुद्वारे के पीछे तथा अन्य स्थानीय पुलिस थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर दुलियाजन तिनिआली शहर में हुआ।

एएसपी ने बताया कि दुलियाजन तिनिआली से मिले सीसीटीवी फुटेज में दिख रहा है कि मोटरसाइकिल पर आए दो युवकों ने ग्रेनेड फेंका और भाग गए। उन्होंने बताया कि ग्राहम बाजार और एटी रोड पर विस्फोट परिष्कृत विस्फोटक उपकरण (आईईडी) से किए गए। बरुआ ने बताया कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारी विस्फोट स्थल पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी गई है। पूर्वोत्तर में कई अन्य प्रतिबंधित संगठनों के साथ ही उल्फा (आई) ने गणतंत्र दिवस समारोह के बहिष्कार का आह्वान किया था।

असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने टि्वटर पर विस्फोटों की निंदा की और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का आह्वान किया। उन्होंने ट्वीट किया, ''असम के कुछ स्थानों में बम विस्फोटों की कड़ी निंदा। एक पवित्र दिन पर आतंक फैलाने की यह कायरतापूर्ण कोशिश लोगों द्वारा पूरी तरह नकार दिए जाने के बाद उग्रवादी समूहों की हताशा को ही दिखाती है। हमारी सरकार दोषियों को पकड़ने के लिए कड़ी कार्रवाई करेगी।" मुख्यमंत्री कार्यालय में एक सूत्र ने कहा कि सोनोवाल ने असम के पुलिस महानिदेशक भास्कर ज्योति महंत से स्थिति से निपटने और विस्फोटों में शामिल दोषियों को जल्द से जल्द पकड़ने के लिए कहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:ULFA I claims responsibility for Republic Day Assam blasts