ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशमतदाताओं का टू स्टेप वेरिफिकेशन, हाउसिंग सोसायटी में पोलिंग बूथ; भाजपा की चुनाव आयोग से मांग

मतदाताओं का टू स्टेप वेरिफिकेशन, हाउसिंग सोसायटी में पोलिंग बूथ; भाजपा की चुनाव आयोग से मांग

भारतीय जनता पार्टी ने यह भी कहा कि अभी तक सिर्फ 50% मतदान केंद्रों पर वीडियोग्राफी और लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था मौजूद है। इसे सभी राज्यों के 100% मतदान केंद्रों पर उपलब्ध कराना चाहिए।

मतदाताओं का टू स्टेप वेरिफिकेशन, हाउसिंग सोसायटी में पोलिंग बूथ; भाजपा की चुनाव आयोग से मांग
Himanshu Jhaलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली।Thu, 29 Feb 2024 06:12 AM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनावों से पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने बुधवार को चुनाव आयोग को सुझाव दिया कि मतदान कक्ष में प्रवेश करने से पहले मतदाताओं का टू स्टेप वेरिफिकेशन किया जाए। बीजेपी ने इसके पीछे तर्क दिया कि वोटिंग के दौरान धांधली की खबरें अक्सर आती रहती हैं। केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव, अरुण सिंह और ओम पाठक सहित भाजपा नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग से मिला और इसकी मांग करते हुए एक ज्ञापन सौंपा।

भाजपा ने अपने ज्ञापन में कहा है, “मतदान केंद्रों पर धांधली की शिकायतों के कारण चुनाव आयोग किसी भी मतदाता को मतदान कक्ष में प्रवेश करने की अनुमति देने से पहले दो चरणों वाली पहचान की संभावना तलाश सकता है। निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित करने के लिए इस तरह की पहचान प्रक्रिया का फुल-प्रूफ रिकॉर्ड आयोग और राजनीतिक दलों के पास उपलब्ध होना चाहिए।”

पार्टी ने यह भी कहा कि अभी तक सिर्फ 50% मतदान केंद्रों पर वीडियोग्राफी और लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था मौजूद है। इसे सभी राज्यों के 100% मतदान केंद्रों पर उपलब्ध कराना चाहिए।

इंडियन एक्सप्रेस ने ओम पाठक के हवाले से कहा है कि प्रतिनिधिमंडल ने आयोग को बताया कि चुनाव के दौरान विभिन्न दलों द्वारा फर्जी मतदाता या डुप्लिकेट मतदाता की शिकायतें की जाती हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी ने बूथ में प्रवेश करने से पहले मतदाता की तस्वीर लेने और फोटो पहचान पत्र से उसका मिलान करने का सुझाव दिया है। भाजपा का दावा है कि इससे चुनावों में अधिक पारदर्शिता आएगी।

भाजपा ने चुनाव आयोग से यह सुनिश्चित करने के लिए भी कहा कि शहरी क्षेत्रों में मतदान केंद्र आवासीय सोसायटियों में स्थापित किए जाएं। चुनाव आयोग ने सीईओ को पिछले साल सितंबर में निर्देश दिया था। भाजपा ने कहा कि हम इस संबंध में आयोग की पहल का स्वागत करते हैं, लेकिन हम अभी तक आयोग के निर्देशों के अनुसार नए मतदान केंद्र स्थापित करने से अनभिज्ञ हैं।

भाजपा ने तर्क दिया कि आवासीय सोसायटियों में नए मतदान केंद्र स्थापित करने से मतदान प्रतिशत में सुधार होगा। भाजपा ने कहा, "हमें पूरी उम्मीद है कि आयोग आम चुनावों की घोषणा से पहले ऐसे मतदान केंद्रों की स्थापना सुनिश्चित करेगा।"

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें