DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब झारखंड में मॉब लिंचिंग: शक में गुस्साई भीड़ का शिकार बने दो मुस्लिम युवक, 4 गिरफ्तार

Mob lynching

झारखंड के गोड्डा जिले में गुस्साई भीड़ ने बुधवार की सुबह मवेशी चोरी करने के संदेह पर दो मुस्लिम युवकों को पीट-पीटकर उनकी हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि दुल्लू गांव के लोगों ने मंगलवार की रात 13 भैंस चोरी करने के इल्जाम में 35 वर्षीय सिराबुद्दीन अंसारी और 30 साल के मुर्तजा अंसारी को पकड़ लिया।
 

शक ने ली दो की जान 
गोड्डा के एसपी राजीव कुमार सिंह ने बताया- “गांववालों ने यह दावा किया कि उन लोगों के पास से गायब हुई दो भैंस बनकट्टी इलाके से बरामद हुई। उनकी पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।” सिंह ने बताया कि इस घटना में कालेश्वर सोरेन, किशन टुडू और हरजोहन किस्कु को गिरफ्तार किया गया है और स्थिति को नियंत्रण में लाया गया है।

क्या है पूरा मामला
गोड्डा के आदिवासी बहुल देवडांड़ स्थित बनकट्टी गांव में बुधवार की सुबह ग्रामीणों ने दो मवेशी चोरों को पीट-पीटकर मार डाला। मृतकों की पहचान पोड़ैयाहाट के तालझारी गांव निवासी मुर्तजा और सिराबुद्दीन अंसारी के रूप में की गई है। इस घटना को लेकर क्षेत्र में तनाव का माहौल है। 

 

डुल्लू गांव के मुंशी मुर्मू एवं अगल-बगल के ग्रामीणों के कई भैंस समेत 13 मवेशी चोरी हो गए। सुबह आठ बजे इन मवेशियों को लेकर आरोपी बनकट्टी गांव से गुजर रहे थे। इसी दौरान ग्रामीणों की नजर भैंस लेकर जा रहे पांचों आरोपियों पर पड़ी। इसके बाद ग्रामीण जमा हो गए। हंगामा होने पर कई गांवों के लोग जुट गए और आरोपियों को घेरना शुरू किया। तीन तो भागने में सफल रहे, मगर दो को ग्रामीणों ने पकड़ लिया। ग्रामीणों ने उनसे पूछताछ की।
ये भी पढ़ें: बर्बरता : एक किलो चावल चुराने वाले युवक को पीट-पीट कर मार डाला

मवेशी चोरी की इस क्षेत्र में बढ़ी घटनाएं
इसके बाद आरोपी युवकों को आक्रोशित ग्रामीणों ने बांधकर पीटना शुरू कर दिया। पिटाई से दोनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। आरोपियों के पास से मवेशियों को बरामद कर लिया गया। घटना की सूचना पुलिस को सुबह नौ बजे मिली। पुलिस ने गांव पहुंचकर शवों को पोस्टर्माटम मे लिए गोड्डा भेज दिया। ग्रामीणों ने बताया कि मवेशी चोरी की घटनाएं इस क्षेत्र में बढ़ गयी हैं। बताया जाता है कि सिराबुद्दीन अंसारी कई आपराधिक मामलों में अभियुक्त था। इस घटना से क्षेत्र में तनाव की स्थिति है। पुलिस अधीक्षक राजीव रंजन सिंह ने बताया कि ग्राम प्रधान के भाई मुंशी मुर्मू सहित चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है।

असम में भी भीड़ ने की दो युवकों की हत्या
यह घटना असम में बच्चा चोरी करने की अफवाह के बाद दो युवकों की भीड़ की तरफ से पीट-पीटकर की गई हत्या के एक हफ्ते बाद आई है। ऐसी ही घटना में मई महीने में तेलंगाना और कर्नाटक में कम से कम 5 लोगों को भीड़ ने पीटकर उनकी हत्या कर दी थी।

ये भी पढ़ें: पुलिसवाले ने दिखाई दिलेरी, मुस्लिम युवक को बचाने के लिए भीड़ से भिड़ा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two Muslim men lynched in Jharkhand on suspicion of cattle theft