ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देश30 जून तक की यात्रा के लिए बुक सभी रेग्युलर ट्रेनों के टिकट कैंसल, श्रमिक और स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी

30 जून तक की यात्रा के लिए बुक सभी रेग्युलर ट्रेनों के टिकट कैंसल, श्रमिक और स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी

रेलवे ने 30 जून तक की यात्रा के लिए पहले से बुक सभी टिकटों को कैंसल कर दिया है। रेल मंत्रालय ने गुरुवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सभी टिकटों पर फुल रिफंड दिया जाएगा यानी यात्रियों से...

30 जून तक की यात्रा के लिए बुक सभी रेग्युलर ट्रेनों के टिकट कैंसल, श्रमिक और स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी
पीटीआई,नई दिल्लीThu, 14 May 2020 11:09 AM
ऐप पर पढ़ें

रेलवे ने 30 जून तक की यात्रा के लिए पहले से बुक सभी टिकटों को कैंसल कर दिया है। रेल मंत्रालय ने गुरुवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सभी टिकटों पर फुल रिफंड दिया जाएगा यानी यात्रियों से कैंसिलेशन चार्ज वसूल नहीं किया जाएगा। रलेवे बोर्ड पैसेंजर मार्केटिंग डायरेक्टर की ओर से जारी नोटिफिकेशन में कहा गया है कि मेल, एक्सप्रेस, पैसेंजर और उपनगरीय सहित सभी ट्रेनों को कैंसल कर दिया गया है। 

हालांकि, श्रमिक स्पेशल ट्रेनों और 12 मई से शुरू की गईं स्पेशल ट्रेनें चलती रहेंगी। इन ट्रेनों के टिकट नहीं कैंसल किए गए हैं। 17 मई तक अन्य सभी ट्रेनों के टिकट पहले ही कैंसल किए जा चुके थे। इसके अलावा रेलवे ने रेगुलर ट्रेनों के टिकट बुकिंग पर भी रोक लगा रखी है। 

यह भी पढ़ें: कोरोना संक्रमण के बीच स्पेशल ट्रेन से यात्रा करने वाले इन बातों का रखें विशेष ध्यान 

कोरोना वायरस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देश में 24 मार्च से लॉकडाउन लागू करने के साथ ही पैसेंजर ट्रेनों का संचालन भी रोक दिया गया था। इस बीच मालगाड़ियां दौड़ती रहीं। 12 मार्च से रेलवे ने नई दिल्ली से देश के 15 रूटों पर 15 जोड़ी ट्रेनों की शुरुआत की है। काफी एहतियात और जांच पड़ताल के बाद यात्री इन ट्रेनों में सफर कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: 5 फीसद उछले IRCTC के शेयर, 7 महीने में 300% से ज्यादा दिया रिटर्न

 इससे पहले रेलवे बोर्ड ने बुधवार को वर्तमान विशेष ट्रेनों में यात्रा के लिए 22 मई से प्रतीक्षा सूची का प्रावधान शुरू किया है। वर्तमान विशेष ट्रेनों में केवल कंफर्म टिकट बुक किए जा रहे हैं, वहीं 22 मई से शुरू हो रही यात्राओं के वास्ते 15 मई से टिकटों की बुकिंग में प्रतीक्षा सूची में टिकट बुक कराने का प्रावधान होगा।
    
हालांकि रेलवे ने इन ट्रेनों में प्रतीक्षा सूची की सीमा एसी थ्री टायर के लिए 100, एसी टू टायर के लिए 50, स्लीपर क्लास के लिए 200, चेयर कार के लिए 100 और फर्स्ट एसी तथा एग्जीक्यूटिव क्लास के लिए 20-20 तय की है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें