DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इनसे सीखें: पुलिस अधिकारी ने शादी के कार्ड पर छपवाए यातायात नियम 

भरतपुर के 29 साल की ट्रैफिक पुलिस की सब इंस्पेक्टर इसी 19 अप्रैल को 7 फेरे लेने जा रही हैं। पर इस विवाह में खास है उनका शादी का  कार्ड। उन्होंने सभी निमंत्रण पत्रों में ट्रैफिक नियमों का प्रकाशन कराया है। सब इंस्पेक्टर मंजू फौजदार ने अपने भाई और पिता को सड़क हादसे में खोया है। इस निजी हानि ने उनके दिमाग पर काफी गहरा असर डाला।

वे नहीं चाहती कि ऐसा ही दिन किसी और को देखना पड़े। वे कहती हैं , मैंने अपने पिता ईश्वर सिंह को तब खोया जब मैं सिर्फ एक साल की थी। मेरे छोटे भाई देवेंद्र सिंह का निधन 2006 में सड़क हादसे में ही हो गया। जब मुङो ट्रैफिक विभाग में नौकरी का मौका मिला, तो मैंने सोचा कि लोगों को यातायात के नियमों को लेकर जागरूक किया जाए। पिता के निधन के बाद तीन भाई बहनों का पालन की जिम्मेवारी मां पर आ गई। मां ने यह जिम्मेवारी बखूबी निभाई।

मंजू कहती हैं, सड़क हादसे से रोज कई मौत होती हैं क्योंकि खास तौर पर युवा वर्ग हेलमेट पहनने को लेकर लापरवाह है। वह ट्रैफिक नियमों की भी परवाह नहीं करते। हमें यह समझने की जरूरत है कि हेलमेट पहनने से हमारी सुरक्षा होती न कि हम सिर्फ जुर्माना से बचने के लिए हेलमेट लगाएं। मंजू पाली गांव के स्कूल मास्टर हरवीर सिंह से विवाह करने जा रही हैं। तो अपने परिचितों और रिश्तेदारों को जागरूक करने के लिए उन्होंने अपने शादी कार्ड पर भी ट्रैफिक के नियम प्रकाशित करवाए हैं। मंजू की मां इस बात से काफी खुश हैं कि उनकी बेटी अपने पिता के पदचिन्हों पर चलते हुए पुलिस विभाग को अपनी सेवाएं दे रही है।

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Traffic rule printed on marriage card by police officer