DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इज्जत पर आंच न आए इसलिए पिता-पुत्री ने मौत को लगाया गले

 Wife, husband, hanging

राजस्थान में हनुमानगढ़ जिले के सदर थाना क्षेत्र में करीब दस दिन पहले तीन लड़कों द्वारा बार-बार छेड़खानी किए जाने से आहत होकर इंदिरा गांधी नहर में कूदे पिता-पुत्री के शव 10 दिन बाद शुक्रवार को बरामद हो गए। 

पुलिस ने बताया कि सहजीपुरा निवासी संदीप बाजिया की पुत्री कल्पना को पशुओं की खरीद फरोख्त करने वाले तीन युवक विद्यालय आने जाने के दौरान छेड़ा करते थे। इसकी प्राथमिकी संदीप ने डबली राठान चौकी में दर्ज कराई। एक जनवरी को कुछ ग्रामीण तीनों युवकों को पकड़कर संदीप के घर ले आए और उनके साथ मारपीट की।

तब संदीप और उसके परिजनों को कुछ लोगों ने उन्हें पुलिस कार्रवाई की धमकी दी। इससे व्यथित होकर संदीप ने दो जनवरी को अपने एक परिचित को बताया कि वह कल्पना के साथ नहर में आत्महत्या करने जा रहा है। फिर वह कल्पना के साथ गांव से एक परिचित की कार लेकर मसीतांवाली  हैड की ओर गया और वहां दोनों नहर में कूद गए।

ग्रामीणों द्वारा उनकी तलाश करने पर कार मसीतांवाली हैड पर खड़ी मिली। तभी से उनके शव की तलाश की जा रही थी। सुबह मसीतांवाली हैड से करीब तीन किलोमीटर दूर कच्ची डबली पुल के पास दोनों के शव सतह पर तैरते मिल गये। पुलिस ने एक नाबालिग और दो युवकों के खिलाफ मामला दर्ज करके उनकी तलाश शुरू कर दी है।

पत्रकार रामचंद्र छत्रपति ने प्रकाशित किया था राम रहीम का घिनौना सच

VIDEO: यूएई में भारतीय फुटबॉल टीम के फैंस को पिंजरे में बंद किया गया

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:to avoid shame father and daughter commit suicide in rajasthan