ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशबम जल्द ही फट जाएंगे, तुम सब मर जाओगे; एयरपोर्ट के बाद मुंबई के 50 अस्पतालों को उड़ाने की धमकी

बम जल्द ही फट जाएंगे, तुम सब मर जाओगे; एयरपोर्ट के बाद मुंबई के 50 अस्पतालों को उड़ाने की धमकी

बता दें इससे पहले दिन में चेन्नई, पटना और जयपुर सहित 41 हवाई अड्डों को भी ऐसी ही धमकियां मिलीं थीं, जिसके बाद अधिकारियों को आपातकालीन उपाय करने पड़े कई जगहों की जांच करनी पड़ी जो घंटों तक चली।

बम जल्द ही फट जाएंगे, तुम सब मर जाओगे; एयरपोर्ट के बाद मुंबई के 50 अस्पतालों को उड़ाने की धमकी
Amit Kumarलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईWed, 19 Jun 2024 12:44 AM
ऐप पर पढ़ें

जसलोक अस्पताल, रहेजा अस्पताल, सेवन हिल्स अस्पताल, कोहिनूर अस्पताल, केईएम अस्पताल, जेजे अस्पताल और सेंट जॉर्ज अस्पताल सहित मुंबई के 50 से ज्यादा अस्पतालों को ईमेल के जरिए बम से उड़ाने की धमकियां मिली हैं। मुंबई पुलिस ने पुष्टि की है कि धमकी भरे ईमेल VPN नेटवर्क का इस्तेमाल करके भेजे गए थे। पुलिस ने बताया कि धमकी भेजने वाले की पहचान और धमकी का मकसद अभी पता नहीं चल पाया है।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, मुंबई के हिंदुजा कॉलेज ऑफ कॉमर्स को भी उड़ाने की धमकी देने वाला एक फर्जी ईमेल संस्थान को मिला है। एएनआई ने पुलिस के हवाले से बताया, "स्थानीय पुलिस और बम निरोधक दस्ते ने मौके पर पहुंचकर जांच शुरू की, लेकिन कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला। मुंबई का वीपी रोड पुलिस स्टेशन इस मामले की जांच कर रहा है।"

बता दें इससे पहले दिन में चेन्नई, पटना और जयपुर सहित 41 हवाई अड्डों को भी ऐसी ही धमकियां मिलीं थीं, जिसके बाद अधिकारियों को आपातकालीन उपाय करने पड़े कई जगहों की जांच करनी पड़ी जो घंटों तक चली। जांच के बाद पाया गया कि ये धमकियां फर्जी थीं। हवाई अड्डों को प्राप्त ईमेल में लगभग एक जैसा संदेश था: "नमस्ते, हवाई अड्डे में विस्फोटक छिपाए गए हैं। बम जल्द ही फट जाएंगे। आप सभी मर जाएंगे।"

हालांकि सुरक्षा एजेंसियों द्वारा कई घंटों तक चलाए गए अभियान के बाद इनमें से प्रत्येक धमकी को अफवाह घोषित कर दिया गया। सूत्रों के मुताबिक, ये ई-मेल अपराह्न करीब 12.40 बजे हवाई अड्डों पर 'एक्सहुम्डयू888' नामक ई-मेल आईडी से प्राप्त हुए। वाराणसी, चेन्नई, पटना, नागपुर, जयपुर, वडोदरा, कोयम्बटूर और जबलपुर हवाई अड्डे उन हवाई अड्डों में शामिल थे, जिन्हें धमकियां मिलीं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 4 जून को लोकसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद पहली बार मंगलवार को अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में थे। सूत्रों ने बताया कि इन फर्जी धमकी भरे ई-मेल के पीछे 'केएनआर' नामक एक ऑनलाइन समूह का हाथ होने का संदेह है। उन्होंने बताया कि समूह ने कथित तौर पर एक मई को दिल्ली-एनसीआर के कई स्कूलों को इसी तरह के ई-मेल भेजे थे।

हवाई अड्डों को प्राप्त ई-मेल में लगभग एक जैसा संदेश था, ‘‘हैलो, हवाई अड्डे में विस्फोटक छिपाए गए हैं। बम जल्द ही फट जाएंगे। तुम सब मर जाओगे।’’ सूत्रों ने बताया कि हवाई अड्डों ने बम की धमकी मिलने के बाद आकस्मिक उपाय शुरू कर दिए, जांच की और संबंधित बम खतरा आकलन समिति की सिफारिशों के बाद टर्मिनल की तलाशी ली।

मुंबई में, एक पुलिस अधिकारी ने मंगलवार को बताया कि बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी), प्रमुख अस्पतालों और कॉलेजों सहित मुंबई के 60 से अधिक प्रतिष्ठानों को बम विस्फोटों की धमकी वाले ई-मेल मिले, जिसके बाद तलाशी ली गई, हालांकि उनमें कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला।

उन्होंने बताया कि ये ईमेल सोमवार और मंगलवार को एक ही मेल आईडी से प्राप्त हुए थे। उन्होंने बताया, ‘‘मंगलवार को प्राप्त ईमेल सोमवार को प्राप्त ईमेल के समान ही थे, जिसमें शहर भर के प्रमुख निजी, सरकारी और नगर निगम द्वारा संचालित अस्पतालों और कॉलेजों को बम से उड़ाने की धमकी दी गई।’’