ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशशंभू बॉर्डर पर पुलिस ने चलाई असली गोलियां; किसानों का बड़ा आरोप; भड़के उगराहां गुट का रेल रोकने का ऐलान

शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने चलाई असली गोलियां; किसानों का बड़ा आरोप; भड़के उगराहां गुट का रेल रोकने का ऐलान

Farmers Protest 2024: अधिकारी ने कहा कि आंदोलनकारी किसान नेताओं की केंद्रीय मंत्रियों के साथ कल बैठक करने का फैसला राजपुरा के एक होटल में तीन किसान नेताओं और खुफिया अधिकारियों के बीच बैठक के बाद लिया

शंभू बॉर्डर पर पुलिस ने चलाई असली गोलियां; किसानों का बड़ा आरोप; भड़के उगराहां गुट का रेल रोकने का ऐलान
Pramod Kumarमोनी देवी, हिन्दुस्तान,चंडीगढ़Wed, 14 Feb 2024 08:44 PM
ऐप पर पढ़ें

Farmers Protest 2024: न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी का कानून बनाने की मांग समेत 12 सूत्री मांगों के लिए दिल्ली कूच कर रहे किसानों का जत्था आज भी पंजाब-हरियाणा के शंभू बॉर्डर पर ही टिका रहा। इस दौरान, पुलिस और किसानों के बीच दिनभर कई दौर की भिड़ंत हुई। शाम में इस बात पर सहमति बनी कि आंदोलनकारी किसानों के साथ केंद्र सरकार के प्रतिनिधि मंत्री कल (गुरुवार को) चंडीगढ़ में तीसरे दौर की बातचीत करेंगे। पंजाब के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने की इसकी पुष्टि की है।

अधिकारी ने कहा कि आंदोलनकारी किसान नेताओं की केंद्रीय मंत्रियों के साथ कल बैठक करने का फैसला राजपुरा के एक होटल में तीन किसान नेताओं और खुफिया अधिकारियों के बीच हुई बैठक के बाद लिया गया है। केंद्र सरकार के संदेश के साथ पंजाब के खुफिया अधिकारियों ने शंभू नाकाबंदी के पास राजपुरा के एक होटल में किसान नेताओं से मुलाकात की थी। 

अधिकारी के मुताबिक, इस बैठक में किसान नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल और सरवन सिंह पंधेर फिर से चंडीगढ़ में केंद्रीय मंत्रियों से बातचीत करने पर सहमत हो गए हैं। सूत्रों ने बताया कि खुफिया अफसरों ने राजपुरा के होटल में आंदोलनकारी किसान नेताओं की बातचीत केंद्र सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों से कराई, जिसके बाद गुरुवार को चंडीगढ़ में केंद्रीय मंत्री के साथ तीसरे दौर की बातचीत करने का फैसला किया गया।

संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) के नेता जगजीत सिंह डल्लेवाल ने प्रेस वार्ता में बताया कि चंडीगढ़ में किसानों नेताओं की बातचीत सरकार से कल शाम को होगी। उन्होंने कहा कि आंदोलन को खराब करना सरकार का मकसद है। हम शांति पूर्ण तरीके से अपनी बात सरकार के सामने रखना चाहते हैं। मीटिंग को लेकर प्रेस वार्ता में डल्लेवाल ने बताया कि आज कोई बातचीत नहीं हुई है। उन्होंने कहा, "जब तक बातचीत नहीं हो जाती, तब तक हम आगे नहीं बढ़ेंगे। अबकी बार सशर्त मीटिंग के लिए हम तैयार हुए हैं।" 

उन्होंने कहा कि बैठक की जगह पहली मीटिंग का स्थान यानी चंडीगढ़ सेक्टर 26 ही है। सरकार की तरफ से भी  मंत्री वहीं पहुंचेंगे, जिनसे पहले बातचीत हो चुकी है। दूसरे किसान नेता सरवन सिंह पंढेर ने कहा कि केंद्र सरकार की तरफ से बातचीत के लिए हमें चिट्ठी मिली है। हम कल केंद्र सरकार से तीरे दौर की बातचीत करेंगे

देश विरोधी गतिविधि का आरोप लगाकर सोशल मीडिया अकाउंट किया बंद
किसान नेता ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने देश विरोधी गतिविधि का आरोप लगाकर सोशल मीडिया अकाउंट बंद करवा दिया है। उन्होंने कहा कि ऐसा जानबूझ कराया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमारे सोशल मीडिया अकाउंट्स यह कह कर बंद कर दिए गए कि ये लोग देश विरोधी हरकत कर रहे हैं। उन्होंने एक बार फिर दोहराया कि हम टकराव नहीं चाहते हैं। किसान दिल्ली कूच शांतिपूर्वक करना चाहते हैं। उन्होंने पूछा कि जब हमने बोला कि हम शांति पूर्वक बैठेंगे तो बैरिकेडिंग क्यों की जा रही है।  

किसान बोले- हम पर असली गोलियां चलाई
इस बीच प्रदर्शनकारी किसानों ने हरियाणा पुलिस और अर्धसैनिक बलों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि उन पर आंसू गैस के गोले, पानी की बौछारों के साथ असली गोलियां भी चलाई गई हैं। यह लोकतंत्र की हत्या है क्योंकि हम लोग शांतिपूर्वक प्रदर्शन कर रहे हैं।

पंजाब रोडवेज ने दिल्ली और हरियाणा जाने वाली सभी सेवाएं रद्द  कीं
आंदोलन को देखते हुए पंजाब रोडवेज ने दिल्ली और हरियाणा जाने वाली सभी तरह की बस सेवाएं रद्द कर दी हैं। साधारण बसों के अलावा इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट, नई दिल्ली तक चलने वाली वोल्वो बस सेवा को भी बंद कर दिया गया है। पंजाब रोडवेज के जनरल मैनेजर मनिंदर सिंह ने इसकी पुष्टि की है। मनिंदर सिंह ने कहा कि इस रूट के लिए रोडवेज की ऑनलाइन बुकिंग को भी बंद किया गया है।

पंजाब में कल 7 जगह रोकी जाएंगी ट्रेनें
अब तक खुद को संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा के दिल्ली कूच आंदोलन से तटस्थ रख रहे पंजाब से जुड़े बड़े किसान संगठन भी किसान आंदोलन के समर्थन में आ गए हैं। भारतीय किसान यूनियन (उगराहां) और भारतीय किसान यूनियन (डकौंदा) ने शंभू बॉर्डर व खनौरी सीमा पर केंद्र व हरियाणा की सरकारों द्वारा किसान प्रदर्शनकारियों पर किए जा रहे अनावश्यक बल प्रयोग के खिलाफ गुरुवार को रेल रोको प्रदर्शन की घोषणा की है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें