ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देश'वे कांकेर में मारे गए माओवादियों को शहीद बता रहे', कांग्रेस के बयान पर भड़की भाजपा; पुराना वीडियो भी दिखाया

'वे कांकेर में मारे गए माओवादियों को शहीद बता रहे', कांग्रेस के बयान पर भड़की भाजपा; पुराना वीडियो भी दिखाया

भाजपा के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि कांग्रेस का आतंकवादियों और उग्रवादियों की वकालत करने का लंबा इतिहास है।

'वे कांकेर में मारे गए माओवादियों को शहीद बता रहे', कांग्रेस के बयान पर भड़की भाजपा; पुराना वीडियो भी दिखाया
Himanshu Tiwariअमन आर्यन, हिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीThu, 18 Apr 2024 02:56 PM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने आज एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया कि कांग्रेस का आतंकवादियों और उग्रवादियों की वकालत करने का लंबा इतिहास है। पूनावाला की टिप्पणी कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत के बयान के जवाब में आई। पूनावाला ने श्रीनेत की बुधवार की प्रेस कॉन्फ्रेंस की एक क्लिप दिखाई जिसमें उन्होंने कहा था कि बस्तर में चलाए गए ऑपरेशन की गहन जांच होनी चाहिए। वीडियो में श्रीनेत कहती हैं कि वह 'शहीदों' के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करती हैं। पूनावाला ने आरोप लगाया कि उन्होंने माओवादियों के प्रति संवेदना व्यक्त की क्योंकि जो मरे हैं वे केवल माओवादी हैं।

मुठभेड़ में मारे गए थे 29 माओवादी
इससे पहले मंगलवार को सुरक्षा बलों ने महाराष्ट्र सीमा के करीब बस्तर के कांकेर जिले में मुठभेड़ में 29 माओवादियों को मार गिराया था। पूनावाला ने कांग्रेस पर हमला जारी रखा और कहा, "बाहर आकर सुरक्षा बलों का स्वागत करने के बजाय कांग्रेस पार्टी ने दावा किया है कि माओवादियों को शहीद किया गया हैं। कांग्रेस ने हमारे सुरक्षा बलों की बहादुरी पर सवाल उठाया है।" भाजपा प्रवक्ता ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली सीट से कांग्रेस के उम्मीदवार कन्हैया कुमार की पुरानी क्लिप दिखाई और दावा किया कि वीडियो में कन्हैया कुमार ने नक्सलियों को शहीद कहा है।

भाजपा ने कांग्रेस पर लगाई आरोपों की झड़ी
पूनावाला ने जो वीडियो दिखाया, उनमें से एक में रवीश कुमार के साथ कन्हैया के इंटरव्यू का एक क्लिप था। जिसमें कन्हैया ने कहा था, "हम नक्सली हिंसा का समर्थन नहीं करते हैं, लेकिन हम निर्दोष आदिवासियों को माओवादियों के रूप में टैग करके उनकी हत्या के समर्थन में भी नहीं हैं।" पूनावाला ने आरोप लगाया कि यह पूरे इंडिया गठबंधन का एक पैटर्न रहा है जहां नेता सुरक्षाबलों की कार्रवाई पर सवाल उठाते रहे हैं। उन्होंने कहा, "वे 'टुकड़े-टुकड़े' मानसिकता वाले लोगों के साथ खड़े हैं।" उन्होंने आगे कहा कि इंडिया गठबंधन की पार्टियां एक खास वोट बैंक द्वारा सराहना पाने के लिए ऐसा कर रही हैं।

पूनावाला ने कहा, "मोदी सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस नीति के तहत नक्सलवाद और वामपंथी उग्रवाद पर कड़ी कार्रवाई की है। उन्होंने दावा किया कि नक्सली हिंसा में 72% की गिरावट आई है, माओवाद प्रभावित क्षेत्रों में नागरिकों की मौत में 85% की गिरावट आई है, सुरक्षाबलों की मौत में 72% की कमी आई है और माओवाद प्रभावित जिलों की संख्या 96 से घटकर 45 हो गई है।"

उन्होंने आगे दावा किया कि कांग्रेस के शासनकाल के विपरीत जब वामपंथी उग्रवाद और लाल गलियारा फैल रहा था, पिछले विधानसभा चुनावों में भाजपा द्वारा छत्तीसगढ़ जीतने के बाद से 80 माओवादियों का सफाया कर दिया गया है, 125 गिरफ्तार किए गए हैं और 150 ने आत्मसमर्पण किया है। बताते चलें कि लोकसभा चुनाव के लिए मतदान कल 19 अप्रैल से शुरू होगा। पहले चरण का मतदान 21 राज्यों की 102 सीटों पर होगा।