ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशतमिलनाडु में 2 अक्टूबर पर RSS के जुलूस को हरी झंडी, हाई कोर्ट ने शर्तों के साथ दी अनुमति

तमिलनाडु में 2 अक्टूबर पर RSS के जुलूस को हरी झंडी, हाई कोर्ट ने शर्तों के साथ दी अनुमति

मद्रास हाई कोर्ट ने गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को तमिलनाडु में 51 जगहों पर जुलूस निकालने की अनुमति दे दी है। यह जुलूस आजादी के 75 साल पूरे होने के जश्न पर निकाला जाना है।

तमिलनाडु में 2 अक्टूबर पर RSS के जुलूस को हरी झंडी, हाई कोर्ट ने शर्तों के साथ दी अनुमति
Ashutosh Rayलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 22 Sep 2022 07:02 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) की ओर से दो अक्टूबर के दिन तमिलनाडु के 51 स्थानों पर जुलूस निकाले जाने का रास्ता साफ हो गया है। मद्रास हाई कोर्ट के गुरुवार संघ के पदाधिकारियों की ओर से दायर एक रिट याचिकाओं के एक बैच की सुनवाई करते हुए कुछ शर्तों के साथ जुलूस निकालने को अनुमति दे दी है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के मुताबिक, याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट पुलिस को 28 सितंबर से पहले जुलूस के लिए रूट तय करने और कानून व्यवस्था बनाए रखने के कड़ी शर्तों के साथ अनुमति देने का निर्देश दिया है। याचिका में राज्य के कई जिलों में संघ की वर्दी पहनकर मार्च निकालने की अनुमति मांगी गई थी। कोर्ट ने यह भी कहा कि वह इस मामले में विस्तृत आदेश बाद में देगी।

मार्च के आगे-आगे रहेगा संगीत बैंड

आरएसएस की शिवकाशी इकाई का प्रतिनिधित्व करने वाले अधिवक्ता राबू मनोहर ने कहा कि कार्यकर्ता अपनी वर्दी पहनेंगे, मार्च का नेतृत्व एक संगीत बैंड करेगा और जनसभा आयोजित करेगा। उन्होंने कहा कि जुलूस की अनुमति के लिए पुलिस अधिकारियों से संपर्क करने के बावजूद आज तक कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई है। 

आजादी के 75 साल के जश्न पर जुलूस

आरएसएस पदाधिकारियों की रूट मार्च की यह योजना संघ के स्थापना दिवस के साथ-साथ आजादी के 75 साल का जश्न मनाने के लिए हैं। हाई कोर्ट में सुनवाई के दौरान राज्य के पब्लिक प्रॉसिक्यूटर हसन मोहम्मद जिन्ना ने आशंका व्यक्त की कि रैलियों से हिंसा भड़क सकती है क्योंकि जिस रास्ते से जुलूस निकलेगा उसमें अन्य धार्मिक स्थल भी हैं।

epaper