DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

‘मी टू’ आंदोलन के बाद गठित मंत्री समूह की पहली बैठक हुई

metoo

‘मी टू’ आंदोलन के मद्देनजर कार्यस्थलों पर महिलाओं का यौन उत्पीड़न रोकने के लिए कानूनी एवं संस्थागत ढांचों को मजबूत करने के लिए गठित मंत्री समूह (जीओएम) की पहली बैठक सोमवार को हुई। इस बैठक में जिन मुद्दों पर चर्चा हुई, उसे गोपनीय रखा गया है। 

वहीं, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने राष्ट्रीय महिला आयोग को मजबूत करने पर जोर दिया। मंत्रियों के इस समूह का नेतृत्व गृहमंत्री राजनाथ सिंह कर रहे हैं। सड़क एवं परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी भी इसमें शामिल हैं। सूत्रों के मुताबिक गडकरी के अलावा सभी मंत्रियों ने इस बैठक में हिस्सा लिया। दरअसल, गडकरी दिल्ली में नहीं हैं।

सूत्रों ने बताया कि ऐसी दो और बैठकें होगी जिनमें जीओएम मौजूदा प्रावधानों को प्रभावी तीके से लागू करने के लिए जरूरी कार्य की सिफारिश करेगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:The first meeting held of the Group of Ministers formed after the MeToo movement