ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देशकोयंबटूर एलपीजी सिलेंडर विस्फोट से जुड़े आतंकी तार, एनआईए की रडार पर था मृतक

कोयंबटूर एलपीजी सिलेंडर विस्फोट से जुड़े आतंकी तार, एनआईए की रडार पर था मृतक

विस्फोट में मारे गए एक व्यक्ति के घर से रविवार को ‘कम तीव्रता वाली विस्फोटक सामग्री’ बरामद की और कहा कि जब्त की गई पोटेशियम नाइट्रेट जैसी सामग्री ‘भविष्य’ में इस्तेमाल किए जाने के लिए थी।

कोयंबटूर एलपीजी सिलेंडर विस्फोट से जुड़े आतंकी तार, एनआईए की रडार पर था मृतक
Amit Kumarएजेंसियां,कोयंबटूरMon, 24 Oct 2022 01:21 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

तमिलनाडु के कोयंबटूर में एक मंदिर के सामने कार विस्फोट के आतंकी तार सामने आए हैं। दरअसल विस्फोट में मारे गए 25 वर्षीय व्यक्ति जमीशा मुबीन से राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने 2019 में पूछताछ की थी। ये पूछताछ जहरान हाशिम से संबंधित एक कट्टरपंथी नेटवर्क से जुड़ी थी। जहरान हाशिम श्रीलंका में ईस्टर संडे धमाकों का मास्टरमाइंड था। तमिलनाडु पुलिस ने कार में सिलेंडर विस्फोट में मारे गए एक व्यक्ति के घर से रविवार को ‘कम तीव्रता वाली विस्फोटक सामग्री’ बरामद की और कहा कि जब्त की गई पोटेशियम नाइट्रेट जैसी सामग्री ‘भविष्य’ में इस्तेमाल किए जाने के लिए थी।

एक कार में एलपीजी सिलेंडर विस्फोट के कारण जमीशा मुबीन की मौत ने अब संभावित आतंकी साजिश की ओर इशारा किया है। हालांकि तमिलनाडु के पुलिस महानिदेशक सी. सिलेंद्र बाबू ने आतंकवादी साजिश से इंकार नहीं किया है लेकिन पुलिस इस मामले पर ज्यादा कुछ बोल नहीं रही है क्योंकि विस्फोट के आसपास के सबूत अभी भी जुटाने का काम हो रहा है। बाबू के अनुसार, वे हर संभावना की तलाश कर रहे हैं क्योंकि उनके घर से ली गई सामग्री "भविष्य की योजना के लिए हो सकती है।"

राज्य के पुलिस प्रमुख सी सिलेंद्र बाबू ने आज तड़के घटना के कुछ घंटों बाद कहा कि जांच में ‘अच्छी प्रगति’ हुई है। उन्होंने आगे कहा कि मामले की राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (एनआईए) से जांच की संभावना का पता जांच पूरी होने के बाद ही चल पाएगा। शीर्ष अधिकारी ने बताया कि मृतक की पहचान 25-वर्षीय जेमिशा मुबीन के रूप में हुई है, जिससे पहले एनआईए ने पूछताछ की थी, लेकिन उसके खिलाफ कोई मामला नहीं है और न ही कोई ‘प्रतिकूल जानकारी’ मालूम हुई है।

मुबीन की आज सुबह शहर के एक सांप्रदायिक रूप से संवेदनशील इलाके में एक कार में गैस सिलेंडर में विस्फोट होने के कारण मौत हो गई, इसके बाद राज्य के शीर्ष पुलिस अधिकारी को यहां पहुंचना पड़ा और स्थिति का जायजा लेना पड़ा। बाद में दिन में पत्रकारों को संबोधित करते हुए बाबू ने कहा कि घटना के संबंध में उक्कदम पुलिस थाने में मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच की जा रही है।

उन्होंने कहा, ‘‘हमें उस वाहन में कील, कंचे और अन्य सामान मिले, जिनकी फोरेंसिक विभाग द्वारा जांच की जा रही है। उसके घर की तलाशी के बाद हमें कुछ निम्न तीव्रता वाले विस्फोटक यथा--पोटेशियम नाइट्रेट, एल्युमीनियम पाउडर, चारकोल, सल्फर-- बरामद किये गये हैं, जिनका देसी बम बनाने में इस्तेमाल किया जाता है।’’ उन्होंने कहा कि ऐसा लगता है कि ये कुछ ‘भविष्य’ की योजनाओं के लिए थे, लेकिन केवल गहन जांच से ही असली मकसद का पता चल सकेगा।