DA Image
21 जनवरी, 2020|12:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तेलंगाना एनकाउंटर: NHRC ने दर्ज किए आरोपियों के परिवार के बयान, हाईकोर्ट में सुनवाई आज

hyderabad encounter site

हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक से बलात्कार और उसकी हत्या के चारों आरोपियों के पुलिस मुठभेड़ में मारे जाने की घटना की जांच कर रही एनएचआरसी की एक टीम ने रविवार (8 दिसंबर) को उनके परिवार के सदस्यों के बयान दर्ज किए। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) की जांच समिति ने मृतका के निकट परिजन को भी सुना। पुलिस सूत्रों ने पीटीआई-भाषा को बताया कि आरोपियों के परिवार के सदस्यों को नारायणपेट जिले से शहर में लाया गया था और आयोग की टीम ने उनके बयान दर्ज किए।

उन्होंने कहा, ''टीम से बात करने के बाद संवाददाताओं को महिला पशु चिकित्सक के पिता ने बताया कि उन्होंने (आयोग की टीम ने) हमारी समस्याओं के बारे में और घटना कैसे हुई, इस बारे में पूछा...।" उन्होंने बताया कि परिवार को टीवी चैनलों से मुठभेड़ की खबर मिली। इससे पहले पीड़िता की कॉलोनी के कुछ बाशिंदों इलाके में पालथी मारकर बैठ गए और पूछा कि इतने दिनों से एनएचआरसी कहां था।

उन्होंने तख्तियां ले रखी थी जिन पर लिखा था, ''हमें न्याय चाहिए, 'लड़कियों का सम्मान करो और 'महिलाओं को बचाओ।" उन्होंने पूछा कि कथित पुलिस मुठभेड़ की अब जांच कर रहा आयोग नृशंस सामूहिक बलात्कार एवं पीड़िता की हत्या पर चुप क्यों था और इस संस्था ने पिछले 10 --12 दिनों में क्या किया है। उन्होंने पूछा, ''क्या आम आदमी के मानवाधिकार नहीं हैं?" कुछ क्रोधित बाशिंदों ने पूछा, ''क्या यह तुरंत है? आम आदमी इस तरह के जवाब की उम्मीद करता है। इसमें क्या गलत है?" 

आरोपियों के परिजन ने पुलिस कार्रवाई पर रविवार को एक बार फिर से रोष जाहिर किया। एक आरोपी की बहन ने कहा कि पुलिस ने ऐसा दबाव में आकर किया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई-भाषा को बताया, ''एनएचआरसी टीम की जांच जारी है।" शुक्रवार (6 दिसंबर) तड़के हुई 'मुठभेड़ को लेकर पुलिस की कार्रवाई के बारे में बहस छिड़ने के एक दिन बाद आयोग ने तथ्य का पता लगाने के लिये एक टीम को भेजा था। टीम ने शनिवार (7 दिसंबर) को महबूबनगर जिले के सरकारी अस्पताल के मुर्दाघर का दौरा किया था, जहां पोस्टमॉर्टम के बाद चारों आरोपियों के शवों को रखा गया है।

एनएचआरसी टीम में फॉरेंसिक मेडिसिन के विशेषज्ञ भी शामिल हैं। टीम ने शवों का परीक्षण किया और यहां से 50 किलोमीटर दूर चट्टनपल्ली गांव का भी दौरा किया, जहां 28 नवंबर को एक पुलिया के नीचे से महिला का जला हुआ शव बरामद हुआ था। टीम ने पास में ही स्थित मुठभेड़ स्थल का भी दौरा किया था। शुक्रवार (6 दिसंबर) को 'मुठभेड़ में चार आरोपियों के मारे जाने का संज्ञान लेते हुए आयोग ने घटना की जांच के आदेश दिये थे। एनएचआरसी ने कहा था कि मुठभेड़ चिंता का विषय है और उसकी सावधानी से जांच किये जाने की आवश्यकता है। इसके बाद घटनास्थल पर जाकर मामले के तथ्यों का पता लगाने के लिये सात सदस्यीय एक दल को तैनात किया गया था।

चारों आरोपियों के शवों का महबूबनगर के सरकारी जिला अस्पताल में पोस्टमॉर्टम किया गया है और उसकी वीडियोग्राफी की गई। इस बीच, तेलंगाना उच्च न्यायालय ने शुक्रवार (6 दिसंबर) को सरकार को निर्देश दिया था कि वह चारों आरोपियों के शवों को नौ दिसंबर की रात आठ बजे तक सुरक्षित रखे। अदालत सोमवार को मामले की सुनवाई करेगी। चारों आरोपियों को 29 नवंबर को 25 वर्षीय पशु चिकित्सक से बलात्कार करने और उसकी हत्या करने तथा बाद में उसके शव को जलाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Telangana Encounter NHRC team records statements of kin of accused meets victim family Hearing On Telangana High Court Today