ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशअमित शाह के फेक वीडियो मामले में पुलिस के सामने पेश हुए तेलंगाना सीएम रेवंत रेड्डी, क्या दिया जवाब

अमित शाह के फेक वीडियो मामले में पुलिस के सामने पेश हुए तेलंगाना सीएम रेवंत रेड्डी, क्या दिया जवाब

रेवंत रेड्डी ने कहा कि कांग्रेस नेता का अमित शाह के भाषण में छेड़छाड़ कर वीडियो बनाने या पोस्ट करने से कोई लेना-देना नहीं है।

अमित शाह के फेक वीडियो मामले में पुलिस के सामने पेश हुए तेलंगाना सीएम रेवंत रेड्डी, क्या दिया जवाब
Himanshu Tiwariभाषा,नई दिल्लीThu, 02 May 2024 12:36 AM
ऐप पर पढ़ें

तेलंगाना के मुख्यमंत्री ए. रेवंत रेड्डी की वकील बुधवार को दिल्ली पुलिस के सामने पेश हुईं। रेवंत रेड्डी ने कहा कि कांग्रेस नेता का अमित शाह के भाषण में छेड़छाड़ कर वीडियो बनाने या पोस्ट करने से कोई लेना-देना नहीं है। रेड्डी को कथित तौर पर सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर वीडियो पोस्ट करने को लेकर दिल्ली पुलिस ने समन जारी किया था। उन्होंने तेलंगाना में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधा।

मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि आरक्षण के मुद्दे को लेकर भाजपा पर सवाल उठाने की वजह से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने उनके खिलाफ प्रतिशोधपूर्ण रवैया अपनाया है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि वे ‘डीपफेक वीडियो’ बनाने वाले की पहचान करने के करीब हैं, लेकिन संदिग्ध तक पहुंचने से पहले उन्हें इसे अपलोड करने या अग्रेषित करने वाले अन्य लोगों के बारे में सत्यापन करना होगा।

पुलिस ने कथित तौर पर उक्त वीडियो साझा करने के मामले में विभिन्न विपक्षी दलों के पांच और लोगों को भी नोटिस जारी किया है। कांग्रेस के एक प्रवक्ता ने बुधवार को बताया कि पार्टी की झारखंड इकाई प्रमुख राजेश ठाकुर को भी जांच के सिलसिले में दिल्ली पुलिस ने दो मई को तलब किया है।

ठाकुर ने कहा, ‘‘मुझे मंगलवार को दिल्ली पुलिस से नोटिस मिला। लेकिन, यह मेरी समझ से परे है कि मुझे नोटिस क्यों दिया गया। यह अराजकता के अलावा कुछ नहीं है।’’ सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर कथित तौर पर ‘फर्जी वीडियो’ पोस्ट करने के मामले में कांग्रेस की तेलंगाना इकाई के प्रमुख और प्रदेश कांग्रेस कमेटी के चार अन्य सदस्यों के खिलाफ समन जारी होने के बाद रेड्डी की वकील बुधवार को दिल्ली पुलिस के समक्ष पेश हुईं।

समन में उनसे बुधवार पूर्वाह्न 10 बजकर 30 मिनट पर जांच से जुड़ने के लिए कहा गया था। एक अन्य पुलिस सूत्र ने बताया, ‘‘पुलिस अब भी उन लोगों के जवाब का इंतजार कर रही है जिन्हें आज बुलाया गया था। आने वाले दिनों में एक दर्जन और लोगों के सामने आने की उम्मीद है। उत्तर प्रदेश के कुछ लोगों से बृहस्पतिवार को पूछताछ किए जाने की उम्मीद है।’’

रेड्डी की वकील ने दिल्ली पुलिस के समक्ष दिए जवाब में कहा कि उनका ‘‘मुवक्किल तेलंगाना कांग्रेस नाम के ‘एक्स’ हैंडल का संचालन नहीं करता है और इसलिए वह आपके द्वारा मांगी गई जानकारी प्रदान करने में असमर्थ है।’’ उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली पुलिस का नोटिस ‘प्रतीत होता है’ गलत दिशा में ले जाने के लिए और उससे इसे तुरंत वापस लेने का अनुरोध किया।

क्या बोले रेवंत रेड्डी के वकील
वकील ने जवाब में कहा, ‘‘आपका यह आरोप कि आपके एक्स/ट्विटर हैंडल पर आपके द्वारा ट्वीट/रीट्वीट किया गया वीडियो' पूर्वाग्रह से ग्रस्त और गलत है। स्पष्ट रूप से कहती हूं कि मेरे मुवक्किल का कथित वीडियो बनाने, अपलोड करने या ट्वीट/रीट्वीट करने से कोई लेना-देना नहीं है।’’ वकील ने कहा कि रेड्डी का ट्विटर हैंडल रेवंत अलुमुला है और उनके हैंडल से ‘कथित वीडियो ट्वीट या रीट्वीट’ नहीं किया गया है।

रेड्डी ने तेलंगाना के निजामाबाद लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में बुधवार को एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि उनके खिलाफ दिल्ली में मामला केंद्रीय गृह मंत्रालय की शिकायत के आधार पर दर्ज किया गया है। उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मैंने भाजपा से सवाल किया। जब मैंने ऐसा किया, तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने प्रतिशोधात्मक रवैया अपना लिया और मेरे खिलाफ दिल्ली में मामला दर्ज करा दिया।’’

दिल्ली पुलिस ने भेजा था समन
दिल्ली पुलिस की विशेष शाखा ने मामले में सोमवार को नोटिस हैदराबाद स्थित मुख्यमंत्री कार्यालय और कांग्रेस के गांधी भवन स्थित कार्यालय के सुपुर्द किया था। रेड्डी ने जनसभा में कहा, ‘‘आप मेरे राज्य में आए और मुख्यमंत्री को धमकाया, लेकिन तेलंगाना की जनता नहीं डरती...।’’ उन्होंने कहा, ‘‘खबरदार प्रधानमंत्री जी, आप शायद सोचते हैं कि आप तेलंगाना आकर धमका सकते हैं। यह मेरा स्थान है। यह मेरा इलाका है। आप मुझे मेरी ही जमीन पर धमका रहे हैं।’’ दिल्ली पुलिस को उन आईडी पर रिपोर्ट के संबंध में एक्स से कोई जवाब नहीं मिला है, जिन्होंने अमित शाह के छेड़छाड़ वाले वीडियो को साझा किया था।