DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › बीजेपी नेता ने प्रियंका गांधी की तुलना 'गिरगिट' से की, कहा- कांग्रेस किसान आंदोलन का कर रही इस्तेमाल
देश

बीजेपी नेता ने प्रियंका गांधी की तुलना 'गिरगिट' से की, कहा- कांग्रेस किसान आंदोलन का कर रही इस्तेमाल

हिन्दुस्तान टाइम्स,नई दिल्लीPublished By: Ashutosh Ray
Tue, 12 Oct 2021 12:31 AM
बीजेपी नेता ने प्रियंका गांधी की तुलना 'गिरगिट' से की, कहा- कांग्रेस किसान आंदोलन का कर रही इस्तेमाल

तेलंगाना बीजेपी नेता एनवी सुभाष ने प्रियंका गांधी के हालिया यूपी दौरे को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है। बीजेपी नेता ने सोमवार को कहा कि कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले मतदाताओं को लुभाने के लिए 'गिरगिट' की तरह अपना रंग बदल रही हैं। सुभाष की यह टिप्पणी कांग्रेस की नेता प्रियंका गांधी की ओर से उत्तर प्रदेश के वाराणसी में काशी विश्वनाथ मंदिर और मां दुर्गा मंदिर में पूजा करने के बाद आई है।

उन्होंने यह भी कहा कि कांग्रेस विधायक लखीमपुर खीरी कांड का राजनीतिक लाभ उठा रहे हैं। बीजेपी नेता ने न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा 'प्रियंका गांधी ने हिंदू धर्म की तारीफ करना शुरू कर दिया। गांधी परिवार ने कभी हिंदू परिवारों के बारे में नहीं सोचा। प्रियंका गांधी ने एक ईसाई से शादी की, उनकी मां एक ईसाई हैं और उनके दादा एक मुस्लिम हैं।'

'राजनीतिक लाभ के लिए किसान आंदोलन का इस्तेमाल कर रही'

बीजेपी नेता ने आगे कहा कि उन्होंने (प्रियंका गांधी) 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों को ध्यान में रखते हुए यह सब खेल खेला है। जो यह दिखाता है कि कैसे कांग्रेस पार्टी अपने राजनीतिक लाभ के लिए किसानों के आंदोलन का इस्तेमाल कर रही थी। अचानक, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में मंदिरों में जाकर हिंदू बनने लगे हैं। उनकी हाल की यूपी यात्रा एक चुनावी हथकंडा था। तेलंगाना बीजेपी ने कहा कि भाजपा प्रचंड बहुमत के साथ सत्ता में वापसी करेगी। साथ में यह भी कहा कि हाल में प्रियंका गांधी का एक्शन पार्टी में गठबंधन सहयोगियों की कमी के कारण सामने आई है।

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र में की थी रैली

बता दें कि प्रियंका गांधी अपने वाराणसी दौरे पर दोनों मंदिरों में दर्शन करने के बाद रोहनिया में एक रैली को भी संबोधित किया, जो कि पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र का एक हिस्सा है। न्यूज एजेंसी एएनआई की रिपोर्ट के मुताबिक प्रियंका ने यह भी कहा कि वह आगामी चुनाव से पहले रह महीने पांच दिनों के लिए उत्तर प्रदेश में रहेंगी। लखीमपुरी घटना के बाद पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचीं प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। हालांकि, बाद वह मृतक के परिवार से मिली और उन्हें न्याय का आश्वासन दिया।

संबंधित खबरें