Tamil Nadu: 19 MLAs from TTV Dinakaran camp urge governor to remove Chief Minister Palaniswami - तमिलनाडु: दिनाकरण गुट ने राज्यपाल से की पलानीस्वामी को सीएम पद से हटाने की मांग DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

तमिलनाडु: दिनाकरण गुट ने राज्यपाल से की पलानीस्वामी को सीएम पद से हटाने की मांग

TTV Dinakaran

टीटीवी दिनाकरण के विश्वासपात्र अन्नाद्रमुक विधायकों के एक समूह ने मंगलवार को तमिलनाडु के राज्यपाल सीएच विद्यासागर राव से चेन्नई में भेंट कर मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी को पद से हटाने की मांग की। उनका कहना है कि मुख्यमंत्री उनका विश्वास खो चुके हैं।

गौरतलब है कि इस घटनाक्रम से एक दिन पहले सोमवार को पलानीस्वामी और ओ. पनीरसेल्वम की अगुवाई वाले धड़ों ने विलय कर लिया। इसके साथ ही पिछले सात महीने से पार्टी में चल रहा गतिरोध खत्म हो गया और बागी खेमे के नेता को उपमुख्यमंत्री का पद दे दिया गया।

'मुख्यमंत्री विश्वास खो चुके हैं'
राज्यपाल से मिलने वाले समूह में शामिल एक विधायक ने पहचान गुप्त रखने का अनुरोध करते हुए कहा, 'हमारा मुख्यमंत्री में विश्वास नहीं है। इस सरकार के खिलाफ पहले भ्रष्टाचार का आरोप लगा चुके पनीरसेल्वम को उपमुख्यमंत्री का पद देने की क्या जरूरत है।'

उन्होंने कहा कि 18 फरवरी को हुए विश्वासमत के दिन पार्टी प्रमुख वी. के. शशिकला की ओर से अन्नाद्रमुक के 122 विधायकों ने पलानीस्वामी का समर्थन किया, जबकि पनीरसेल्वम ने सरकार के खिलाफ वोट दिया था।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री को दोनों धड़ों के विलय से पहले सभी विधायकों के साथ परामर्श करना चाहिए था। विधायक ने कहा,  'इसलिए हमने राज्यपाल को सूचित कर दिया है और कहा है कि मुख्यमंत्री को हटाया जाना चाहिए।'

तमिलनाडु:AIADMK के दोनों धड़ों का हुआ विलय, पनीरसेल्वम बने डिप्टी CM

'पदों के लिए विलय को किया स्वीकार'
पनीरसेल्वम पर निशाना साधते हुए विधायक ने आरोप लगाया कि उन्होंने सिर्फ पदों के लिए विलय को स्वीकार किया है। उन्होंने सवाल किया क्या यही उपमुख्यमंत्री का धर्म युद्ध है, जैसा कि उन्होंने पहले दावा किया था।

राजभवन के सूत्रों ने विधायकों और राज्यपाल के बीच हुई बैठक की पुष्टि की है। लेकिन उन्होंने इसपर कुछ नहीं कहा कि समूह में कितने लोग शामिल थे और क्या बातचीत हुई।

खबरों के अनुसार, पार्टी के उपमहासिचव और पार्टी प्रमुख शशिकला के भांजे दिनाकरण की ओर से सोमवार को उनके आवास पर बुलायी गयी बैठक में 18 विधायकों ने भाग लिया था।

विधायकों में से एक पी. वतर्विेल ने सोमवार रात को दावा किया था कि दिनाकरण को 25 विधायकों का समर्थन प्राप्त है।

डीएमके ने की फ्लोर टेस्ट की मांग

डीएमके के कार्यकारी अध्यक्ष एमके स्टालिन ने कहा, 'मेरे पास जानकारी है कि तीन और AIADMK विधायकों ने अपना समर्थन वापस ले लिया है, इसके बाद ऐसे विधायकों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है। हम सदन में विश्वास मत कराए जाने की मांग करते हैं।'

तमिलनाडु का वर्तमान समीकरण 
तमिलनाडु की 234 सदस्यीय विधानसभा में अन्नाद्रमुक के 134 विधायक हैं। इसमें विधानसभा अध्यक्ष शामिल नहीं हैं। वहीं पूर्व मुख्यमंत्री जे़ जयललिता की आर.के. नगर विधानसभा सीट उनके निधन के बाद अभी तक रिक्त है। विपक्षी दल द्रमुक के पास 89 विधायक हैं, जबकि कांग्रेस के पास आठ और आईयूएमएल के पास एक विधायक हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Tamil Nadu: 19 MLAs from TTV Dinakaran camp urge governor to remove Chief Minister Palaniswami