DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  क्या सच में डिप्रेशन में थे? सुशांत सिंह राजपूत की मनोचिकित्सक सुसान वॉकर से पहली बार सीबीआई ने की पूछताछ

देशक्या सच में डिप्रेशन में थे? सुशांत सिंह राजपूत की मनोचिकित्सक सुसान वॉकर से पहली बार सीबीआई ने की पूछताछ

हिन्दुस्तान,मुंबईPublished By: Shankar Pandit
Fri, 04 Sep 2020 06:54 AM
क्या सच में डिप्रेशन में थे? सुशांत सिंह राजपूत की मनोचिकित्सक सुसान वॉकर से पहली बार सीबीआई ने की पूछताछ

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में गुरुवार को सीबीआई ने पहली बार अभिनेता की मनोचिकित्सक सुसान वॉकर से पूछताछ की। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। राजपूत की मनोचिकित्सक सुसान वॉकर मुंबई के सांताक्रूज स्थित डीआरडीओ के अतिथि गृह में अपराह्र लगभग एक बजे पहुंचीं। वह वहां से सात घंटे बाद रात लगभग आठ बजे रवाना हुईं।  

इस मामले की आरोपी अभिनेत्री रिया के पिता इंद्रजीत चक्रवर्ती से लगातार तीसरे दिन पूछताछ की गई। मुंबई के सांताक्रूज स्थित डीआरडीओ के अतिथि गृह में सुबह साढ़े 10 बजे इंद्रजीत जांचकर्ताओं के समक्ष पेश हुए, लेकिन पांच घंटे बाद दोपहर करीब साढ़े तीन बजे निकले। तीन दिनों में अभिनेत्री के पिता से सीबीआई ने करीब 25 घंटे तक पूछताछ की है। इस मामले में पिछले दिनों रिया से करीब 35 घंटे पूछताछ की जा चुकी है। उनके भाई शोविक चक्रवर्ती से भी सीबीआई पूछताछ कर चुकी है। लेकिन जांच एजेंसी ने गुरुवार को भाई-बहन को नहीं तलब किया। 

बुधवार को नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने कहा था कि उसने सुशांत राजपूत की मौत के मामले में सामने आ रहे नशीली दवाओं की तस्करी से जुड़े पहलू के सिलसिले में दो कथित ड्रग तस्करों को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने बताया कि रिया चक्रवर्ती के भाई और एनसीबी द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों के साथ उनके कथित संबंधों की एजेंसी जांच कर रही है।

आत्म हत्या के लिए उकसाने के आरोप 
रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के सदस्यों पर 34 वर्षीय राजपूत को आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप है। मुंबई पुलिस ने अचानक हुई मौत का मामला दर्ज कर 50 से अधिक लोगों के बयान दर्ज किए थे। लेकिन अभिनेता के पिता ने पटना पुलिस में शिकायत दर्ज कराकर रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार पर उन्हें आत्महत्या के लिए उकसाने और उनके पैसे का दुरुपयोग करने का आरोप लगाया। पिछले महीने उच्चतम न्यायालय ने पटना में दर्ज प्राथमिकी को सीबीआई को हस्तांतरित किए जाने को सही ठहराया था। 

संबंधित खबरें