DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › सुशांत सिंह केस: 10 प्वाइंट में जानें सुप्रीम कोर्ट के आज का फैसला, अब आगे क्या होगा और क्या नहीं
देश

सुशांत सिंह केस: 10 प्वाइंट में जानें सुप्रीम कोर्ट के आज का फैसला, अब आगे क्या होगा और क्या नहीं

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Shankar Pandit
Wed, 19 Aug 2020 01:09 PM
सुशांत सिंह केस: 10 प्वाइंट में जानें सुप्रीम कोर्ट के आज का फैसला, अब आगे क्या होगा और क्या नहीं

सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले की सीबीआई जांच को सुप्रीम कोर्ट ने हरी झंडी दे दी है। सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत की मौत के संबंध में पटना में दर्ज प्राथमिकी की जांच सीबीआई से कराने की बिहार सरकार की सिफारिश को बुधवार को सही ठहराया। साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस से सीबीआई जांच में सहयोग करने का आदेश दिया है। बता दें कि पटना में यह प्राथमिकी सुशांत सिंह राजपूत के पिता कृष्ण किशोर सिंह ने दर्ज कराई थी। तो चलिए जानते हैं सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में क्या-क्या कहा है और अब इस मामले में क्या-क्या हो सकता है...

सुशांत केस की जांच सीबीआई करेगी    
सुप्रीम कोर्ट ने रिया चक्रवर्ती की याचिका पर फैसला सुनाते हुए कहा कि बिहार पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी सही है और सीबीआई जांच की सिफारिश कानून सम्मत है। इसलिए इस केस की जांच सीबीआई करेगी। 

सुशांत सिंह टैलेंटे एक्टर थे

सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में लिखा, 'सुशांत सिंह राजपूत एक टैलंटेड ऐक्टर थे और उनकी पूरी काबिलियत का पता चलने से पहले ही उनकी मौत हो गई। काफी लोग इस केस की जांच के परिणाम का इंतजार कर रहे हैं, इसलिए कयासों को रोकना होगा। इसलिए इस मामले में निष्पक्ष, पर्याप्त और तटस्थ जांच समय की जरूरत है।'

मुंबई पुलिस का अधिकार क्षेत्र सीमित
सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि बिहार सरकार मामले को जांच के लिए सीबीआई के पास भेजने के लिए सक्षम है और भारतीय दंड संहिता की धारा 174 (आत्महत्या की जांच) के तहत जांच कर रही मुंबई पुलिस का अधिकार क्षेत्र सीमित है।

मुंबई पुलिस को करना होगा सहयोग
सुशांत सिंह केस में अपने फैसले के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई पुलिस को सीबीआई जांच में सहयोग करने का आदेश दिया। साथ ही कोर्ट ने यह स्पष्ट किया कि मुंबई पुलिस द्वारा केस से जुड़े सभी दस्तावेज समेत कई अन्य महत्वूर्ण दस्तावेज सीबीआई को सौंपे जाएंगे।

अन्य मामलों की जांच भी सीबीआई
सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में यह स्पष्ट कर दिया कि सुशांत सिंह राजपूत मौत मामले संबंधित अगर कोई अन्य मामला भी दर्ज है तो उसकी जांच भी सीबीआई ही करेगी। 

अब राज्य सरकार टांग नहीं अड़ा सकती
सुशांत सिंह केस में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद स्पष्ट हो गया कि अब सीबीआई को महाराष्ट्र सरकार से जांच की इजाजत नहीं लेनी होगी। सीबीआई चाहे बिहार से लेकर मुंबई तक किसी से भी पूछताछ कर सकती है। बिहार पुलिस को जिन बाधाओं का सामना करना पड़ा, सीबीआई को यह नहीं झेलना पड़ेगा। 

फैसले को चुनौती देने का विकल्प

कानून एक्सपर्ट की मानें तो महाराष्ट्र सरकार सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले को चुनौती भी दे सकती है। क्योंकि यह फैसला न्यायमूर्ति ऋषिकेश रॉय की एकल पीठ ने सुनाया है, तो महाराष्ट्र सरकार के पास डबल बेंच में भी जाने के विकल्प हो सकते हैं। 

कोर्ट के फैसले से किसे झटका 
सुशांत सिंह मौत मामले में सुप्रीम कोर्ट के सीबीआई जांच के फैसले से महाराष्ट्र सरकार, मुंबई पुलिस और रिया चक्रवर्ती को बड़ा झटका लगा है। महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस शुरू से ही सीबीआई जांच का विरोध कर रही थी, वहीं रिया पटना में दर्ज एफआईआर को मुंबई ट्रांसफर करवाना चाहती थीं। 

अब नए सिरे से सीबीआई करेगी जांच
सुप्रीम कोर्ट से हरी झंडी मिलने के बाद सीबीआई सुशांत सिंह मौत मामले की नए सिरे से जांच करेगी। हालांकि, मुंबई पुलिस और बिहार पुलिस द्वारा अब तक जांच किए गए दस्तावेजों का भी मुआयना करेगी। सीबीआई घटनास्थल पर जाएगी और हर गवाह से पूछताछ करेगी। 

गौरतलब है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत 14 जून को मुंबई के उपनगर बांद्रा में अपने अपार्टमेंट में फंदे से लटके पाए गए थे। इसके बाद उनके पिता केके सिंह ने सीबीआई जांच की मांग की, जिसके बाद नीतीश सरकार ने इसकी सिफारिश की और केंद्र ने मंजूरी दी थी। 

संबंधित खबरें