DA Image
28 अक्तूबर, 2020|12:01|IST

अगली स्टोरी

नहीं कर सकते हैं माफ... ऑनलाइन सुनवाई में शर्टलेस वकील से सुप्रीम कोर्ट खफा

The Supreme Court directed the attorney general to inform the court within 10 days the possible date

सुदर्शन टीवी केस की सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई के दौरान एक वकील शर्टलेस होकर कैमरे के सामने बैठ गए। सुप्रीम कोर्ट कई जज इसको लेकर हैरान हैं और अपनी नाराजगी जाहिर की है। इससे पहले भी ऑनलाइन सुनवाई के दौरान एक वरिष्ठ वकील स्मोकिंग करते हुए दिख चुके हैं तो एक बनियान पहनकर ही दलीलें देने लगे।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, बेंच की अगुआई कर रहे जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ ने पूछा कि सुनवाई के दौरान जज कौन था, लेकिन किसी ने उत्तर नहीं दिया। बताया जा रहा है कि जस्टिस चंद्रचूड़ ने इस तरह के बेढंगे व्यवहार को लेकर आपत्ति जाहिर की है। बेंच की सदस्य जस्टिस इंदु मलहोत्रा ने भी नाराजगी जाहिर की और कहा कि यह काम माफी योग्य नहीं है।

आजकल सुप्रीम कोर्ट सहित अन्य अदालतों में ऑनलाइन सुनवाई हो रही है। यह पहला मामला नहीं है जब वकील शिष्टाचार का उल्लंघन करते हुए पाए गए हैं। वरिष्ठ वकील राजीव धवन एक ऑनलाइन सुनवाई के दौरान स्मोकिंग करते हुए दिखे थे।

राजस्थान हाई कोर्ट में जमानत याचिका पर सुनवाई के दौरान एक वकील बनियान में ही शामिल हो गए थे, जिसपर जजों ने नाराजगी जाहिर की थी। कोर्ट ने कहा, ''इस कोर्ट ने पहले ही कहा है कि महामारी के दौरान कोर्ट का कामकाज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चल रहा है, वकील उचित वर्दी में प्रस्तुत हों। इस बात को ध्यान में रखते हुए कि याचिकाकर्ता के वकील सही यूनिफॉर्म में नहीं थे, सुनवाई स्थगित की जाती है।'' एडवोकेट एक्ट के तहत वकीलों को कोर्ट के सामने निर्धारित वर्दी में हाजिर होना होता है। 

गुजरात हाई कोर्ट ने ऑनलाइन सुनवाई के दौरान स्मोकिंग करते हुए पकड़े जाने पर एक वकील पर 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Supreme Court Judges shocked as advocate appears shirtless for online hearing of Sudarshan TV case