DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

'दलित' शब्द के प्रयोग को चुनौती देने वाली याचिका सुप्रीम कोर्ट में खारिज

Supreme Court

सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने अनुसूचित जाति के सदस्यों के लिए दलित शब्द का इस्तेमाल नहीं करने संबंधी मीडिया को दिये गये केंद्र के परामर्श को चुनौती देने वाली याचिका सोमवार को खारिज कर दी।

मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगोई की पीठ ने कहा कि वह सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के 2018 के परामर्श को चुनौती देने वाली याचिका पर विचार नहीं करना चाहती। मंत्रालय ने निजी टेलीविजन चैलनों को दलित शब्द के स्थान पर अनुसूचित जाति शब्द का प्रयोग करने की सलाह दी थी। याचिकाकर्ता वीए रमेशनाथन की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने इस परिपत्र की वैधता पर सवाल उठाया और कहा, भारत सरकार मेरी पहचान पर सवाल उठाते हुए ऐसा परिपत्र कैसे जारी कर सकती है। पीठ इस तरह की दलील से प्रभावित नहीं हुई और उसने कहा कि इस समय ऐसी याचिका पर विचार करने में हमारी दिलचस्पी नहीं है। इसे खारिज किया जाता है।

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने 7 अगस्त, 2018 को एक परिपत्र जारी कर सलाह दी थी कि मीडिया को अनुसूचित जाति के सदस्यों के लिए दलित शब्द के इस्तेमाल से गुरेज करना चाहिए। मंत्रालय ने कहा कि इस समुदाय के सदस्यों के बारे में सभी सरकारी कार्यो, मामलों, प्रमाणपत्रों आदि में सिर्फ अनुसूचित जाति शब्द का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Supreme Court dismisses the petition challenging use word Dalit