DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड: 'बाइक चोरी' के आरोप में पिटाई से शख्स की मौत पर SIT गठित

jharkhand mob lynching case

एक मोटरसाइकिल चुराने के संदेह पर पिछले सप्ताह कथित तौर पर कई घंटों तक बुरी तरह पिटाई के शिकार हुए एक व्यक्ति ने चार दिन बाद दम तोड़ दिया है। पुलिस ने सोमवार को यह जानकारी दी। इस घटना का एक कथित वीडियो सामने आया है जिसमें पीड़ित को 'जय श्री राम और 'जय हनुमान बोलने के लिए विवश किया जा रहा है। हालांकि, इस मामले में पुलिस ने एसआईटी गठित कर दी है। 

इस बीच राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि झारखंड हिंसा और लिंचिंग का फैक्ट्री बन चुका है। वहां हर सप्ताह दलित और मुस्लिम मारे जा रहे हैं। प्रधानमंत्री जी, हम आपके सबका साथ-सबका विकास में समर्थन में हैं, मगर यह लोगों में दिखना भी चाहिए। हम कहीं भी यह नहीं देख पा रहे हैं। 

यह भी पढ़ें: झारखंड:चोरी के आरोपी मुस्लिम युवक से जय श्री राम बुलवाया, पीटने से मौत

उधर, पुलिस ने बताया कि तबरेज अंसारी की मौत की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित किया गया है जिसने 22 जून को जमशेदपुर में टाटा मेन अस्पताल में दम तोड़ दिया था। पुलिस ने कहा कि हाल ही में निकाह करने वाले अंसारी की एक खंभे से बांधकर 18 जून को रात भर लाठियों से पिटाई की गई। इसके तीन दिन बाद उसने 21 जून को बेचैनी की शिकायत की जिसके बाद उसे सरायकेला सदर (जिला) अस्पताल ले जाया गया। उन्होंने बताया कि अगले दिन उसे जमशेदपुर के टाटा मेन अस्पताल ले जाया गया। 

पुलिस अधीक्षक कार्तिक एस ने बताया, ''हमने मामले की जांच के लिए एक एसआईटी का गठन किया है...और इसने पहले ही रविवार रात में इलाके में छापेमारी की है। इस घटना के एक वीडियो में भीड़ द्वारा अंसारी पर कथित तौर पर जबरन धार्मिक नारे लगवाने के लिये दबाव डाला जा रहा है। इस बारे में पूछे जाने पर कार्तिक एस ने कहा कि आरोपियों के खिलाफ ''सांप्रदायिक भावनाएं भड़काने का मामला दर्ज किया गया है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हुआ था।

एसपी ने कहा, ''पापु मंडल को गिरफ्तार कर लिया गया है और घटना की जांच की जा रही है। उन्होंने बताया कि घटना के विस्तृत ब्यौरा का खुलासा संवाददाता सम्मेलन के दौरान किया जाएगा। यह घटना 18 जून को उस समय हुई जब तबरेज अंसारी अपने दो दोस्तों के साथ यहां से करीब 30 किलोमीटर दूर जमशेदपुर से पूर्वी सिंहभूमि जिला लौट रहा था।

यह भी पढ़ें:युवती को नशे का इंजेक्शन देकर जीजा ने कराया देह व्यापार

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि कुछ ग्रामीणों ने उन्हें पकड़ लिया और सरायकेला खरसावां जिले के धतकिडिह गांव में उस पर एक मोटरसाइकिल चुराने का आरोप लगाया। उन्होंने बताया कि अंसारी के दोस्त बच निकलने में सफल रहे लेकिन उसे एक खंभे से बांध दिया गया और रात भर लाठियों से उसकी पिटाई होती रही।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इसके बाद ग्रामीणों ने उसे पुलिस को सौंप दिया। पुलिस अधिकारी ने कहा कि अंसारी की पत्नी ने एक शिकायत दर्ज कराई है जिसमें उसने कई लोगों के नाम लिए हैं। अंसारी की पत्नी शाइस्ता परवीन ने अपनी शिकायत में कहा, ''उसे गिरफ्तार करने और जेल भेजने के बजाय पुलिस को उसे अस्पताल ले जाना चाहिए था।        

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:SIT Constituted in Jharkhand Mob Lynching Case