ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशगोल्डी बराड़ आतंकवादी घोषित, केंद्र सरकार का बड़ा ऐक्शन; सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की ली थी जिम्मेदारी

गोल्डी बराड़ आतंकवादी घोषित, केंद्र सरकार का बड़ा ऐक्शन; सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की ली थी जिम्मेदारी

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मास्टरमाइंड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को आतंकवादी घोषित कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने यह फैसला यूएपीए के तहत सुनाया। बराड़ लॉरेंस बिश्नोई गैंग का मेंबर है।

गोल्डी बराड़ आतंकवादी घोषित, केंद्र सरकार का बड़ा ऐक्शन; सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की ली थी जिम्मेदारी
Deepakलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 01 Jan 2024 06:39 PM
ऐप पर पढ़ें

पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मास्टरमाइंड गैंगस्टर गोल्डी बराड़ को आतंकवादी घोषित कर दिया गया है। केंद्र सरकार ने सोमवार को यह फैसला यूएपीए के तहत सुनाया। बराड़ लॉरेंस बिश्नोई गैंग का प्रमुख सदस्य है। बराड़ ने मूसेवाला की हत्या की जिम्मेदारी ली थी। वह पंजाब के फरीदकोट का रहने वाला है और उसका असली नाम सतिंदरजीत सिंह है। वह साल 2017 में स्टूडेंट वीजा पर कनाडा गया था। बता दें कि मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला को पंजाब के मन्सा जिले में 29 मई, 2022 को गोलियों से भूनकर मौत के घाट उतार दिया गया था। 

पहले से इंटरपोल की रेड कॉर्नर नोटिस
बराड़ के खिलाफ इंटरपोल ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर रखी है। फिलहाल वह कनाडा के ब्राम्पटन में रहता है और बिश्नोई गैंग की गतिविधियों को सुपरवाइज करता है। इसके अलावा वह बब्बर खालसा इंटरनेशनल जैसे खालिस्तानी संगठनों के लिए हथियारों और ड्रग्स की तस्करी करने से लेकर टारगेटिंग किलिंग और युवाओं को भर्ती करने तक में शामिल रहता है। कनाडा ने भी गोल्डी बरार को अपने टॉप-25 मोस्ट वांटेड की लिस्ट में शामिल किया हुआ है।

 

गृह मंत्रालय द्वारा सोमवार को जारी एक अधिसूचना के अनुसार, गोल्डी बरार बब्बर खालसा इंटरनेशनल से जुड़ा है। उन्होंने कहा कि सीमा पार एजेंसी द्वारा समर्थित बरार कई हत्याओं में शामिल था और कट्टरपंथी विचारधारा का दावा करता था। वह राष्ट्रवादी समर्थक नेताओं को धमकी भरे फोन करने, फिरौती मांगने और हत्याओं के दावों को विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्मों पर पोस्ट करने में शामिल था। वह सीमा पार से ड्रोन के माध्यम से उच्च श्रेणी के हथियारों, गोला-बारूद और विस्फोटक सामग्री की तस्करी में शामिल रहा है। इसके अलावा हत्याओं को अंजाम देने के लिए इसकी आपूर्ति करता है और शार्प शूटर भी प्रदान करता है।  

मंत्रालय ने कहा कि बराड़ और उसके सहयोगी तोड़फोड़, आतंकी मॉड्यूल बनाने, लक्षित हत्याओं और अन्य राष्ट्र विरोधी गतिविधियों सहित नापाक इरादों के माध्यम से पंजाब में शांति, सांप्रदायिक सद्भाव और कानून व्यवस्था को बाधित करने की साजिश रच रहे हैं। यूएपीए के तहत किसी व्यक्ति को आतंकवादी घोषित करने से एजेंसियों को उनकी संपत्ति यों को कुर्क करने, उनकी अनुपस्थिति में उनके खिलाफ मुकदमा चलाने और प्रत्यर्पण के लिए मजबूत मामला बनाने की अनुमति मिलती है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें