DA Image
19 अक्तूबर, 2020|2:59|IST

अगली स्टोरी

शिवराज का सोनिया को खत, कमलनाथ को पदों से नहीं हटाया तो हम इसे गलत का समर्थन समझेंगे

shivraj singh chauhan

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पार्टी नेता कमलनाथ द्वारा की गई टिप्पणी के बारे में लिखा। कमलनाथ ने भाजपा की नेता इमरती देवी को "आइटम" बताया था। शिवराज ने सोनिया को लिखा कि "कमलनाथ को तुरंत सभी पार्टी के पदों से हटा दें और उनके बयान की कड़ी निंदा करें। यदि आप प्रतिक्रिया देने में विफल रहती हैं, तो मैं यह मानने के लिए मजबूर हो जाऊंगा कि आप इसका समर्थन करती हैं।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता कमलनाथ की टिप्पणी के विरोध में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में दो घंटे का 'मौन उपवास' भी रखा। शिवराज के अलावा ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी इंदौर में मौन धारण कर कमलनाथ के बयान के खिलाफ विरोध दर्ज कराया। मध्य प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर शब्दों का अनर्थ करने का आरोप लगाते हुए कहा कि इसके जरिए दुष्प्रचार किया जा रहा है। कमलनाथ ने रविवार रात में जारी एक बयान में कहा है कि अभी चुनाव में 15 दिन बचे हैं और शब्दों के अर्थ बदल कर चुनाव जीतने की कोशिश की जा रही है। 

कमलनाथ ने कहा कि जनता पूछ रही है कि 2018 के दृष्टि पत्र में 10 लाख नौकरियां देने का वादा किया गया था, तो इन 7 महीनों में कितनी नौकरियां दीं। उत्तर देने की बजाय शिवराज सिंह चौहान कह रहे हैं कमलनाथ ने आइटम कहा। कमलनाथ ने कहा कि हां मैंने आइटम कहा है क्योंकि यह कोई असम्मानजनक शब्द नहीं है। मैं भी आइटम हूं आप भी आइटम हैं और इस अर्थ में हम सभी आइटम है। 

कमलनाथ का दावा है कि लोकसभा और विधानसभा में कार्यसूची को आइटम नंबर लिखा जाता है, पुरस्कार वितरण कार्यक्रम में भी आइटम नंबर लिखा जाता है। क्या यह असम्मानजनक है? मध्य प्रदेश की जनता जब खून के घूंट पी रही है तो उसके आंसू पौंछने की बजाय आपकी पार्टी मेरे कोक पीने को मुद्दा बना रही है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shivraj singh s letter to Sonia gandhi if Kamal Nath is not removed from the posts then we will consider it as support for wrong