DA Image
21 जनवरी, 2020|2:02|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Citizenship Amendment Bill: संजय राउत बोले, सरकार को हमारे सवालों का जवाब देना होगा, नहीं तो...

sanjay raut

शिवसेना सांसद संजय राउत ने नागरिकता (संशोधन) विधेयक पर कहा कि लोकसभा में आंकड़े अलग, राज्यसभा की स्थिति अलग है। सरकार को हमारे सवालों का जवाब देना होगा। अगर हमें संतोषजनक जवाब नहीं मिला तो हमारा रुख लोकसभा में हमने जो किया उससे अलग हो सकता है। उन्होंने कहा कि लोकसभा में आंकड़े अलग, राज्यसभा की स्थिति अलग है। सरकार को हमारे सवालों का जवाब देना होगा। इसके अलावा श्रीलंका के तमिल हिंदुओं के लिए इस बिल में कुछ भी नहीं है।

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मंत्री नसीम खान ने कहा है कि शिवसेना ने न्यूनतम साक्षा कार्यक्रम का उल्लंघन नहीं किया है, लेकिन उसने नागरिकता संशोधन विधेयक का लोकसभा में समर्थन करके अप्रत्यक्ष रुप से भारतीय जनता पार्टी का समर्थन किया है।

खान ने मंगलवार को कहा कि संविधान की प्रकृति के विरुद्ध नागरिकता संशोधन विधेयक लोकतंत्र पर सीधा हमला है। उन्होंने शिवसेना पर आरोप लगाया कि उसने लोकसभा में विधेयक के समर्थन में आने से पहले कांग्रेस को विश्वास में नहीं लिया था। पूर्व मंत्री ने इस मुद्दे पर उसे अपना रुख स्पष्ट करने को कहा। महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों के लगभग एक माह तक चले सियासी ड्रामे के बाद कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस और शिव सेना गठबंधन की महा विकास अघाडी सरकार बनी है।

महाराष्ट्र और केंद्र में भाजपा से अलग हुई शिवसेना ने ढुलमुल रवैए और मोदी सरकार की हिंदु-मुसलमानों के बीच अदृश्य विभाजन की कोशिश'जैसे कई आरोप लगाने के बाद अंत में वोटिंग के दौरान अपना समर्थन दे दिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Shiv Sena MP Sanjay Raut on Citizenship Amendment Bill in Rajya Sabha if we do not get satisfactory answers then our stand could be different from what we took in Lok Sabha