ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशसबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले 10 नेता, मोदी 3.0 कैबिनेट में किसे मिला मौका

सबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले 10 नेता, मोदी 3.0 कैबिनेट में किसे मिला मौका

गुजरात के नवसारी से भारतीय जनता पार्टी के सीआर पाटिल ने 7.73 लाख मतों के अंतर से जीत दर्ज की। मालूम हो कि सबसे अधिक अंतर से जीत का पिछला रिकॉर्ड भाजपा की ही प्रीतम मुंडे के नाम था।

सबसे ज्यादा वोटों से जीतने वाले 10 नेता, मोदी 3.0 कैबिनेट में किसे मिला मौका
Niteesh Kumarएजेंसी,नई दिल्लीSun, 09 Jun 2024 11:39 PM
ऐप पर पढ़ें

अमित शाह, शिवराज सिंह चौहान, ज्योतिरादित्य सिंधिया और सीआर पाटिल उन नवनियुक्त कैबिनेट मंत्रियों में शामिल हैं, जो लोकसभा चुनाव बड़े अंतर से जीतने वाले शीर्ष 10 नेताओं की लिस्ट में हैं। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व विदिशा से 6 बार के सांसद चौहान ने अपने निर्वाचन क्षेत्र में 8.21 लाख मतों के अंतर से जीत हासिल की। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में गृहमंत्री रहे शाह गांधीनगर से 7.44 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीते। पिछली मोदी सरकार में उड्डयन मंत्री रहे सिंधिया मध्य प्रदेश के गुना से 5.40 लाख से अधिक मतों से जीते हैं।

गुजरात के नवसारी से भारतीय जनता पार्टी के सीआर पाटिल ने 7.73 लाख मतों के अंतर से जीत दर्ज की। सबसे अधिक अंतर से जीत का पिछला रिकॉर्ड भाजपा की ही प्रीतम मुंडे के नाम था, जिन्होंने अक्टूबर 2014 में महाराष्ट्र के बीड से 6.96 लाख से अधिक मतों से उपचुनाव जीता था। नवसारी से तीन बार के सांसद पाटिल ने 2019 में 6.89 लाख मतों के अंतर से दूसरी सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बनाया था। उन्होंने 2024 के चुनाव में अपना ही रिकॉर्ड तोड़ दिया।

लिस्ट में इंदौर के सांसद भाजपा के शंकर लालवानी 
नरेंद्र मोदी ने रविवार को राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली, जवाहरलाल नेहरू के बाद लगातार तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने वाले वे दूसरे प्रधानमंत्री बन गए। ईश्वर के नाम पर शपथ लेने वाले मोदी के साथ भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह, अमित शाह, नितिन गडकरी, निर्मला सीतारमण और एस जयशंकर ने कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली, जो प्रधानमंत्री के निरंतरता और अनुभव पर जोर देने का संकेत देता है क्योंकि वे उनके दूसरे कार्यकाल में भी वरिष्ठ पदों पर थे। अपने प्रतिद्वंद्वियों को हराने वाले शीर्ष 10 उम्मीदवारों की सूची में शामिल अन्य लोगों में इंदौर के सांसद भाजपा के शंकर लालवानी भी शामिल हैं। उन्होंने 11.72 लाख मतों के अंतर से जीत हासिल की। ​​

10.12 लाख मतों के अंतर से दूसरी सबसे बड़ी जीत
कांग्रेस के रकीबुल हुसैन ने असम के धुबरी से 10.12 लाख मतों के अंतर से दूसरी सबसे बड़ी जीत हासिल की। 5 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीतने वाले अन्य उम्मीदवारों में गुजरात के पंचमहाल से भाजपा उम्मीदवार राजपालसिंह जादव (5.09 लाख) और हेमंग जोशी, वडोदरा (5.82 लाख), इसके भोपाल उम्मीदवार आलोक शर्मा (5.01 लाख) और मंदसौर से सुधीर गुप्ता (5 लाख से अधिक) शामिल हैं। उत्तर प्रदेश के गौतम बुद्ध नगर से भाजपा के महेश शर्मा ने 5.59 लाख मतों के अंतर से जीत हासिल की। छत्तीसगढ़ के रायपुर से भाजपा के उम्मीदवार बृजमोहन अग्रवाल ने 5.75 लाख मतों के अंतर से जीत हासिल की। त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री व भाजपा के बिप्लब कुमार देब ने त्रिपुरा पश्चिम से 6 लाख से अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की। भाजपा उम्मीदवार कृति देव देबबर्मन ने त्रिपुरा पूर्व निर्वाचन क्षेत्र में 4.86 लाख से अधिक मतों से जीत हासिल की।