DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  पॉर्न दिखाकर सांसदों-विधायकों से उगाही, जानें कैसे वीडियो बनाकर करते थे ब्लैकमेल
देश

पॉर्न दिखाकर सांसदों-विधायकों से उगाही, जानें कैसे वीडियो बनाकर करते थे ब्लैकमेल

लाइव हिन्दुस्तान ,मुंबईPublished By: Sudhir Jha
Mon, 22 Feb 2021 04:52 PM
पॉर्न दिखाकर सांसदों-विधायकों से उगाही, जानें कैसे वीडियो बनाकर करते थे ब्लैकमेल

मुंबई पुलिस ने एक उगाही रैकेट का खुलासा किया है, जो सांसदों, विधायकों और नौकरशाहों जैसे वीआईपी को निशाना बनाता था। यह रैकेट जाने-माने लोगों को महिला के फेक प्रोफाइल और उन्हें पॉर्न दिखाकर अपने जाल में फंसाता था। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रान्च ने गैंग के तीन लोगों को राजस्थान, हरियाणा और उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार किया है।

टाइम्स नाउ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, रैकेट के सदस्य पहले तय करते थे कि अब किस 'बड़े आदमी' को निशाना बनाया जाए। इसके बाद तय हुए टारगेट को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजा जाता था। कुछ समय तक चैट के बाद पीड़ित को वीकेंड्स पर वीडियो कॉल किया जाता था। 

वॉट्सऐप वीडियो कॉल की शुरुआत पॉर्न से होती थी ताकि टारगेट इसे देखता रहे और इस दौरान आरोपी एक ऐप के जरिए उनके फेस एक्सप्रेशन को रिकॉर्ड कर लेते थे। इसके बाद वे दोनों वीडियो को एडिट करके ब्लैकमेल किया करते थे। वे पीड़ित को फोन करके पैसे की डिमांड करते थे और धमकी देते थे कि यदि पैसे नहीं दिए गए तो वीडियो को सोशल मीडिया पर पोस्ट करके बदनाम कर देंगे। शुरुआत में यह छोटी रकम मांगते थे और एक बार पैसे मिल जाने के बाद धीरे-धीरे बड़ी रकम की मांग करते थे।  

अब तक की जांच में पता चला है कि गैंग ने पीड़ितों को जाल में फंसाने के लिए 171 फेक फेसबुक प्रोफाइल और 4 टेलिग्राम चैनल्स का इस्तेमाल किया। गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने 58 अकाउंट्स को भी सील किया है। आरोपियों ने उगाही के लिए 54 मोबाइल फोन्स का इस्तेमाल किया था।

संबंधित खबरें