ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशपीएम मोदी की अपील के बाद बीजेपी नेताओं ने बदली डीपी, तिरंगा लगाते ही चला गया ब्लू टिक; अब कब आएगा वापस

पीएम मोदी की अपील के बाद बीजेपी नेताओं ने बदली डीपी, तिरंगा लगाते ही चला गया ब्लू टिक; अब कब आएगा वापस

पहले ट्विटर और अब X के नाम से पहचाने जाने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर डीपी बदलने के चलते कई भाजपा नेताओं को गोल्डन टिक गंवाना पड़ा है। इनमें कई राज्यों केसीएम और पार्टी प्रवक्ता तक शामिल है।

पीएम मोदी की अपील के बाद बीजेपी नेताओं ने बदली डीपी, तिरंगा लगाते ही चला गया ब्लू टिक; अब कब आएगा वापस
several bjp leaders lose golden tick after changing display picture to tricolour on x
Deepakलाइव हिंदुस्तान,नई दिल्लीSun, 13 Aug 2023 09:52 PM
ऐप पर पढ़ें

पहले ट्विटर और अब X के नाम से पहचाने जाने वाले सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर डीपी बदलने के चलते कई भाजपा नेताओं को गोल्डन टिक गंवाना पड़ा है। इनमें कई राज्यों के मुख्यमंत्री और पार्टी प्रवक्ता तक शामिल हैं। भाजपा नेताओं ने अपनी डीपी हर घर तिरंगा अभियान के तहत बदली थी। यह कैंपेन ने 77वें स्वतंत्रता दिवस से पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लांच किया था। इसके तहत लोगों से सोशल मीडिया प्रोफाइल पर भारतीय तिरंगे को लगाने के लिए प्रोत्साहित किया गया है। इसके बाद तमाम भाजपा नेताओं ने अपनी प्रोफाइल पिक्चर बदलकर तिरंगा लगाया है।

इन नेताओं ने गंवाया गोल्डन टिक
प्रोफाइल पिक बदलने के बाद जिन नेताओं को गोल्डन टिक गंवाया है, उनमें हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, गोवा के सीएम प्रमोद सावंत, मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी शामिल हैं। इसके अलावा भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा का भी गोल्डन टिक चला गया है। बता दें कि एक्स सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की पॉलिसी है कि वास्तविक नाम और डिसप्ले फोटो के साथ ही वेरिफाइड अकाउंट्स चला सकते हैं।

पीएम का ग्रे टिक बरकरार
नई क्राइटेरिया के तहत अब एक्स मैनेजमेंट इन नेताओं की प्रोफाइल को फिर से रिव्यू करेगा। अगर सब कुछ गाइडलाइंस के मुताबिक रहा तो इन नेताओं का गोल्डन टिक रिस्टोर कर दिया जाएगा। बता दें कि पीएम मोदी ने भी अपनी डीपी चेंज की है और तिरंगा लगाया है। हालांकि उनका ग्रे टिक हटाया नहीं गया है औरप यह बरकरार है। बता दें कि गोल्डन टिक एक वेरिफिकेशन मार्क है, जो यह साबित करता है कि अकाउंट रियल है और रियल व्यक्ति या संगठन से ताल्लुक रखता है।