DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  सीरम ने ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी टीके भेजे, जानें कहां पहुंची कितनी वैक्सीन

देशसीरम ने ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी टीके भेजे, जानें कहां पहुंची कितनी वैक्सीन

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्ली।Published By: Himanshu Jha
Thu, 14 Jan 2021 05:52 AM
सीरम ने ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी टीके भेजे, जानें कहां पहुंची कितनी वैक्सीन

भारत बायोटेक और दुनिया की सबसे बड़ी टीका उत्पादक कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने विभिन्न राज्यों में टीका पहुंचाना शुरू कर दिया है। एसआईआई ने बुधवार को कहा कि उसने भारत सरकार से मिले ऑर्डर के मुकाबले 95 फीसदी कोरोना टीकों को विभिन्न राज्यों के लिए रवाना कर दिया है। सूत्रों के मुताबिक केंद्र सरकार ने पुणे स्थित कंपनी से 1.1 करोड़ टीकों का ऑर्डर दिया है। बाकी के एक लाख टीकों को गुरुवार तक आपूर्ति कर दी जाएगी।

16 जनवरी से देशभर में शुरू होने वाले टीकाकरण के तहत विभिन्न राज्यों में कोवैक्सीन और कोविशील्ड टीके पहुंचने की स्थिति इस प्रकार है-

ओडिशा पहुंची कोवैक्सीन की खेप

ओडिशा में बुधवार को कोरोना रोधी टीके की दूसरी खेप पहुंची। इसके तहत एक विमान कोवैक्सीन की 20,000 शीशी लेकर भुवनेश्वर के बीजू पटनायक अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उतरा। इससे पहले टीके की पहली खेप एक विशेष विमान के जरिये पुणे स्थित सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया से आई थी। सीरम इंस्टीट्यूट ने कोविशील्ड की 4.08 लाख कोरोना टीके भेजे थे। कोवैक्सीन और कोविशील्ड की शीशियों को कड़ी सुरक्षा के बीच राज्य टीका भंडारण केंद्र में रखा गया है।

असम में टीके की दूसरी खेप पहुंची

असम में कोरोना टीके की दूसरी खेप बुधवार को पहुंच गई। एक निजी एयरलाइन का मालवाहक विमान स्वदेश विकसित 'कोवैक्सीन' टीके की 12,000 डोज के साथ लोकप्रिय गोपीनाथ बारदोलोई अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे (एलजीबीआई) पर पहुंचा। ये टीके तीन बक्सों में हैदराबाद से आए है, जिनका वजन करीब 78.5 किग्रा है। पूर्वोत्तर में टीके के वितरण के लिए गुवाहाटी स्थित यह हवाईअड्डा मुख्य केंद्र है।

मुंबई को कोविशील्ड की 1.39 लाख खुराक मिलीं

मुंबई को कोरोना रोधी टीके कोविशील्ड की 1.39 लाख से अधिक खुराकें मिली हैं। बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने बुधवार को यह जानकारी दी। बीएमसी ने एक बयान में कहा कि खुराकों की पहली खेप 16 जनवरी को शुरू होने वाली टीकाकरण मुहिम के लिए शहर भर में चिह्नित केंद्रों में पहुंचाई जाएगी। बीएमसी ने बताया कि उसे सीरम इंस्टीट्यूट से सुबह करीब साढ़े पांच बजे टीकों की 1,39,500 खुराक मिलीं। टीकों की खुराक परेल में स्थित एफ-साउथ वार्ड कार्यालय में रखी जा रही हैं।

कर्नाटक को और 1.47 लाख खुराकें मिलीं

कर्नाटक के बेलगावी में सीरम इंस्टीट्यूट से कोरोना टीके की दूसरी खेप बुधवार को पहुंच गई। इस खेप में टीके की 1.47 लाख खुराकें हैं। स्वास्थ्य विभाग के एक अधिकारी ने बुधवार को बताया कि कोविशील्ड टीके की पहली खेप मंगलवार को बेंगलुरू पहुंची थी, जिसमें 6.48 लाख खुराकें थीं। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शशिकांत मुनयाल ने कहा कि टीके की इन खुराकों को आठ जिलों में वितरित किया जाएगा। मुनयाल ने कहा-टीके की खुराकें 14,700 शीशियों में पैक हैं, हर शीशी में 10 खुराकें हैं और यह दो बार लगाई जाएगी, पहली बार टीका लगाने के 28 दिन बार दूसरी खुराक दी जाएगी।

छत्तीसगढ़ पहुंची पहली खेप

छत्तीसगढ़ में कोविशील्ड के तीन लाख से अधिक टीके बुधवार को पहुंच गए। ये टीके पुणे से रायपुर पहुंचाए गए। रायपुर स्थित स्वामी विवेकानंद विमानतल के अधिकारियों ने बताया कि टीका एक विमान से दोपहर बाद एक बज कर 40 मिनट पर आया। टीकों के रायपुर पहुंचने के बाद उसे पूरी सुरक्षा में शहर के शास्त्री चौक स्थित राज्य टीका भंडार तक पहुंचाया गया। पहले चरण में राज्य को कोविशील्ड के 3.23 लाख टीके मिले हैं। पहले चरण में राज्य के 2,67,399 स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। राज्य में टीकाकरण के लिए 1349 स्थल चिह्नित किए गए हैं।

भोपाल और इंदौर पहुंचा टीका

मध्य प्रदेश में कोरोना टीकों की पहली खेप बुधवार को भोपाल और इंदौर पहुंची। मध्य प्रदेश के लिए 94 हजार कोरोना टीकों की पहली खेप बुधवार सुबह करीब 11 बजे मुंबई से भोपाल स्थित राजा भोज हवाई अड्डे पर पहुंची। इन टीकों को राजकीय टीका केंद्र ले जाया गया। इंदौर के क्षेत्रीय निदेशक (स्वास्थ्य सेवाएं) अशोक डागरिया ने बताया-कोविशील्ड की लगभग 1.52 लाख खुराकें मुंबई और इंदौर के बीच चलने वाली एक नियमित यात्री उड़ान के जरिये लाई गई हैं, उन्होंने बताया कि ये खुराकें इंदौर और उज्जैन संभागों में पहले चरण के टीकाकरण के लिए भेजी गई हैं। हवाई अड्डे से शीत शृंखला (कोल्ड चेन) बरकरार रखते हुए इन्हें संबंधित जिलों तक पहुंचाया जा रहा है।

त्रिपुरा को टीके की 56,500 खुराकें मिलीं

त्रिपुरा की राजधानी अगरतला में बुधवार को कोविड-19 के टीके की 56,500 खुराकों की पहली खेप पहुंची। ये खेप विमान के जरिये पुणे से भेजी गई। राज्य के टीकाकरण अधिकारी कल्लोल राय ने कहा-कोविशील्ड टीके की 56,500 खुराकों की खेप सुबह अगरतला हवाई अड्डे पर पहुंची। टीके के कंटनेर गोरखाबस्ती क्षेत्र के राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन भंडारण केंद्र पहुंचाए गए।

टीकाकरण में विमान सेवाओं के योगदान से आई तेजी

देशभर में टीकाकरण कार्यक्रम में आई तेजी के पीछे विमान सेवाओं का अहम योगदान है। विमानन कंपनी स्पाइसजेट ने कहा कि उसने बुधवार को मुंबई, पुणे और हैदराबाद से देश के 11 शहरों में कोविड-19 रोधी टीके की 3.5 टन खेप पहुंचाई। टीके की खेप विभिन्न शहरों तक पहुंचाने का काम मंगलवार सुबह शुरू किया गया था। एअरलाइन ने एक बयान में कहा गया कि-13 जनवरी 2021 को स्पाइसजेट ने कोरोना टीके के 3.5 टन वजन वाले 111 बॉक्स मुंबई, पुणे और हैदराबाद से बागडोगरा, देहरादून, श्रीनगर, जम्मू, कानपुर, गोरखपुर, जबलपुर, रांची, राजकोट, दिल्ली और बेंगलुरु पहुंचाए। हैदराबाद से बुधवार सुबह 8:50 बजे भारत बायोटेक के टीके कोवैक्सीन की खेप के साथ मालवाहक विमान ने उड़ान भरी जो बेंगलुरु सुबह 10:23 बजे पहुंचा।

कानपुर-गोरखपुर में पहुंचाए बॉक्स

स्पाइसजेट ने मुंबई से कोविशील्ड टीकों के 74 बॉक्स विभिन्न शहरों में पहुंचाए। इनमें बागडोगरा में दो, देहरादून में 10, श्रीनगर में सात, जम्मू में छह, कानपुर में छह, गोरखपुर में नौ, जबलपुर में 13, रांची में 14 और राजकोट में सात बॉक्स पहुंचाए गए। टीके के 34 बॉक्स पुणे से दिल्ली पहुंचाए।

विस्तार के विमान टीका लेकर वाराणसी पहुंचे

विस्तारा एयरलाइन के भी विमान विभिन्न स्थानों पर वैक्सीन की खेप पहुंचा रहे हैं। इनमें मुंबई से वाराणसी की उड़ान शामिल है। विस्तार, टाटा समूह और सिंगापुर एयरलाइंस का एक संयुक्त है। कंपनी ने कहा कि उसके विमान ने हैदराबाद से कोरोना टीकों के चार बक्से (90.5 किलोग्राम)दिल्ली पहुंचाया। विस्तार ने मुंबई से वाराणसी की उड़ान के जरिये कोवीशील्ड के 16 बक्से (512 किलोग्राम वजन) पहुंचाए।

संबंधित खबरें