DA Image
7 मई, 2021|2:45|IST

अगली स्टोरी

मार्च में ही झुलसा रही गर्मी, दिल्ली में टूटा रिकॉर्ड तो राजस्थान में चलने लगी है लू, जानें देशभर में क्या है हाल

just a week heat will disturb delhi capital

उत्तर भारत समेत देशभर में अब गर्मी झुलसाने लगी है। मार्च का महीना अभी खत्म भी नहीं हुआ और बढ़ते पारे ने रिकॉर्ड तोड़ने शुरू कर दिए हैं। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में सोमवार को अधिकतम तापमान 40.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से 8 डिग्री सेल्सियस ज्यादा है। वहीं, राजस्थान और ओडिशा में गर्म हवाओं ने लोगों का जीना बेहाल कर दिया है। स्थिति यह है कि राजस्थान के कुछ इलाकों में पारा 43 डिग्री सेल्सियस के पार पहुंच गया है। वहीं, उत्तर प्रदेश में भी तपिश बढ़ती जा रही है। आइए जानते हैं देशभर का हाल। 

दिल्ली

दिल्ली का न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक 20.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। बता दें कि जब मैदानों में तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से अधिक हो जाता है, तब वहां हीटवेव घोषित किया जाता है। इससे पहले, गर्मी का आलम यह रहा था कि रविवार का तापमान बीते दो सालों में मार्च के सभी दिनों में दर्ज अधिकतम तापमान में सबसे अधिक रहा( दिल्ली प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक शनिवार को दिल्ली का अधिकतम तापमान 35.3 डिग्री दर्ज किया गया है। रविवार को बढ़ोतरी के बाद अधिकतम तापमान 37.3 डिग्री रहा है, जो सामान्य से 5 डिग्री अधिक रहा था। रविवार को दर्ज अधिकतम तापमान वर्ष 2020 और 2021 में मार्च के सभी दिनों में सबसे अधिक है। इससे पहले 31 मार्च 2019 को इससे अधिक 39.2 डिग्री तापमान दर्ज किया गया था।

राजस्थान

राजस्थान के कई स्थानों पर प्रचंड गर्मी अपना असर दिखाने लगी है। राज्य के अधिकतर शहरों में अधिकतम तापमान सामान्य से सात डिग्री सेल्सियस तक अधिक दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार चूरू, भरतपुर, करौली में अधिकतम तापमान 43 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया। वहीं मौसम विभाग ने आगामी दिनों में कई स्थानों पर लू चलने की संभावना जताई है। मौसम विभाग के प्रवक्ता के अनुसार सोमवार को चूरू में सबसे अधिक अधिकतम तापमान 43.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं भरतपुर-करौली में 43.1-43.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया है। कोटा में अधिकतम तापमान 42.8, बाडमेर-फलौदी में 42.6-42.6, पिलानी में 41.9, सवाईमाधोपुर में 41.8, धौलपुर-बीकानेर में 41.7-41.7, जैसलमेर-चित्तौड़गढ़ में 41.6-41.6 और अलवर में 41.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अन्य स्थानों पर अधिकतम तापमान 40.1 से लेकर 38.6 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया।

उन्होंने बताया कि राज्य के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम तापमान भी सामान्य से दो से पांच डिग्री सेल्सियस अधिक दर्ज किया गया। राज्य के अधिकतर हिस्सों में न्यूनतम तापमान 28.8 डिग्री सेल्सियस से लेकर 12.4 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। विभाग ने आगामी 48 घंटों के दौरान, झुंझुनूं व कोटा जिलों में कहीं-कहीं उष्ण लहर/लू चलने की संभावना जताई है वहीं बीकानेर, बाड़मेर, जैसलमेर, चूरू, जोधपुर, नागौर जिलों में कहीं-कहीं उष्ण लहर से अति उष्ण लहर चलने का ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

हिमाचल प्रदेश

इधर, गर्मी की सुगबुगाहट के बीच होली से पहले हिमाचल के मौसम में बदलाव देखने को मिला। होली के पिछली रात से ही लाहौल घाटी में हो रहे स्नोफॉल की वजह से प्रदेश में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोग अपने घरों में दुबकने को मजबूर हैं, सड़कों पर वाहनों की आवाजाही ठप है। रोहतांग टनल से हिमाचल रोडवेज की बसों का परिवहन रोक दिया गया है। कबाइली क्षेत्र लाहौल घाटी में पिछली रात से मौसम में आए बदलाव की वजह से तापमान में गिरावट महसूस की जा रही है। पिछले 24 घंटे से बर्फबारी हो रही है। अब भी बर्फबारी का दौर जारी है। 

उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश में मार्च 2021 की गर्मी ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। सोमवार को अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। बीते 10 वर्षों में मार्च दूसरी बार सबसे गर्म रहा। वहीं, होली भी एक दशक की सबसे गर्म होली रही। मौसम विभाग के अनुसार फिलहाल बढ़ती गर्मी से राहत की उम्मीद नहीं है। बीते कुछ दिनों से तापमान में निरंतर वृद्धि दर्ज की जा रही थी। सोमवार को बीते 10 सालों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए अधिकतम तापमान सामान्य के मुकाबले 4 डिग्री अधिक 39 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया।

ओडिशा

ओडिशा में सोमवार को कम से कम 13 स्थानों पर 40 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक तापमान दर्ज किया गया, जबकि भारत के मौसम विभाग (आईएमडी) ने अगले दो दिनों के दौरान तापमान में दो से तीन डिग्री की बढ़ोतरी की संभावना जताई है। टिटलागढ़ में सबसे अधिक 42.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, इसके बाद बारीपदा (42 डिग्री सेल्सियस), बोलनगीर (41.5 डिग्री सेल्सियस), झारसुगुड़ा और संबलपुर (41.2 डिग्री सेल्सियस प्रत्येक), अंगुल और हीराकुद (41.1 डिग्री सेल्सियस प्रत्येक), मलकानगिरी ( 41 डिग्री सेल्सियस), भुवनेश्वर (40.5 डिग्री सेल्सियस), नयागढ़ और तालचर (40.2 डिग्री सेल्सियस प्रत्येक) और बालासोर और कटक (40 डिग्री सेल्सियस)। आईएमडी ने अपने पूर्वानुमान में कहा कि अगले दो दिनों के दौरान ओडिशा के जिलों में अधिकतम तापमान में 2-3 डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होने की संभावना है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Scorching heat in Delhi Rajasthan Odisha in March know the weather of rest of the country