DA Image
हिंदी न्यूज़ › देश › स्कूल खुले, बच्चों के चेहरे खिले
देश

स्कूल खुले, बच्चों के चेहरे खिले

डॉयचे वेले,दिल्लीPublished By:
Wed, 01 Sep 2021 11:30 AM
स्कूल खुले, बच्चों के चेहरे खिले

दिल्ली में सितंबर की पहली तारीख को स्कूल खुल गए, बुधवार सुबह से ही दिल्ली में बारिश हो रही है और बच्चे बरसाती और छाता लेकर पुराने अंदाज में स्कूल पहुंचे. कई और राज्यों में भी आज से स्कूल खुल गए हैं.कोरोना महामारी के कारण पिछले कई महीनों से बंद स्कूल एक सितंबर से खोल दिए गए. स्कूल खोलने के लिए राज्य सरकारों ने सख्त कोरोना प्रोटोकॉल तैयार किया है. दिल्ली, मध्य प्रदेश, यूपी, तमिलनाडु, हरियाणा, राजस्थान, तेलंगाना, असम और पुद्दुचेरी समेत कई राज्यों में 50 फीसदी क्षमता के साथ स्कूल खुल गए हैं. महीनों तक बच्चों ने पढ़ाई ऑनलाइन की और अब वे स्कूल जाने को लेकर काफी उत्साहित दिख रहे हैं. दिल्ली में बुधवार को सुबह से ही तेज बारिश हो रही है लेकिन बच्चों का स्कूल जाने का जोश बारिश की बूंदें कम नहीं कर पाई. बच्चे छाता और बरसाती के सहारे बारिश से बचते हुए स्कूल पहुंचे.

दिल्ली में स्कूल खोलने को लेकर दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मीडिया से कहा, "सावधानी के साथ खुलने में दिक्कत नहीं है. स्कूल-कॉलेज का कोई विकल्प नहीं हो सकता है. ऑनलाइन पढ़ाई स्कूल का कारगर विकल्प नहीं है" उन्होंने कहा कि स्कूल खुलने से बच्चे उत्साह में हैं. दिल्ली में बुधवार से 9वीं से 12वीं तक स्कूल खुले तो शिक्षकों ने बच्चों को कोरोना प्रोटोकॉल के बारे में सबसे पहले समझाया और उन्हें बताया गया कि स्कूल के दौरान उन्हें किस तरह से दिश-निर्देशों का पालन करना है. और कहां-कहां खुले स्कूल उत्तर प्रदेश में भी सख्त कोरोना दिशा-निर्देशों के साथ स्कूल खोल दिए गए हैं. उत्तर प्रदेश में कक्षा एक से पांचवीं तक के स्कूल खुल गए हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्कूलों में कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराने के निर्देश दिए हैं. स्कूल खोलने से एक दिन पहले इस संदर्भ में बैठक भी की थी.

योगी ने स्कूलों में स्वच्छता, सैनिटाइजेशन का काम हर दिन करने के निर्देश दिए हैं. यूपी में कक्षा 9वीं से 12वीं तक के बच्चों के लिए स्कूल 16 अगस्त को ही खोल दिए गए थे. मध्य प्रदेश में छठी से 12वीं तक के स्कूल 50 फीसदी क्षमता के साथ खुल गए हैं. राजस्थान की बात की जाए तो वहां भी आज से ही 9वीं से 12वीं की कक्षा खोल दी गई हैं. वहीं हरियाणा में चौथी और पांचवीं कक्षा को दोबारा खोलने का फैसला किया गया है. छात्रों को माता-पिता की इजाजत के साथ स्कूल आने की इजाजत होगी. दक्षिण के राज्य तमिलनाडु में भी आज से 9वीं से लेकर 12वीं तक की कक्षाएं खोलने का फैसला किया गया है. पुद्दुचेरी में भी कक्षा 9 से 12 तक 50 फीसदी क्षमता के साथ फिर से शुरू हो गईं.

कई विशेषज्ञ स्कूल खोलने को लेकर अलग-अलग राय दे रहे हैं. कुछ का कहना है कि इस समय स्कूल खोलना सही नहीं होगा तो वहीं कुछ विशेषज्ञ बच्चों के विकास के लिए स्कूल खोलना जरूरी बता रहे हैं. एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया का कहना है कि बच्चों के विकास के लिए स्कूलों का खुलना जरूरी है. इस बीच देश में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 41,965 नए मामले सामने आए हैं और 460 मरीजों की मौत इस वायरस के कारण हुई है. वहीं मंगलवार को देश में रिकॉर्ड 1.25 करोड़ लोगों को कोरोना की वैक्सीन दी गई..

संबंधित खबरें