ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ देश'सावरकर अध्याय बंद हो गया है', भारत जोड़ो यात्रा के मध्य प्रदेश में पहुंचते ही बदले कांग्रेस के सुर

'सावरकर अध्याय बंद हो गया है', भारत जोड़ो यात्रा के मध्य प्रदेश में पहुंचते ही बदले कांग्रेस के सुर

बुरहानपुर में एक प्रेस वार्ता में एआईसीसी महासचिव ने कहा कि "सावरकर अध्याय बंद हो गया है।" हालांकि उन्होंने कांग्रेस नेताओं के बारे में झूठ फैलाना जारी रखने के लिए भाजपा पर हमला किया।

'सावरकर अध्याय बंद हो गया है', भारत जोड़ो यात्रा के मध्य प्रदेश में पहुंचते ही बदले कांग्रेस के सुर
Amit Kumarअनीश यांडे,भोपालWed, 23 Nov 2022 02:26 PM
ऐप पर पढ़ें

राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा मध्य प्रदेश में प्रवेश कर चुकी है। महाराष्ट्र में सावरकर पर राहुल गांधी की टिप्पणी से उपजे विवाद के बाद यात्रा एमपी में पहुंची है। हालांकि इस बीच कर्नाटक के सांसद जयराम रमेश ने हिंदुत्व विचारक वीडी सावरकर पर अपनी टिप्पणी को फिर से दोहराया है। बुरहानपुर में एक प्रेस वार्ता में एआईसीसी महासचिव ने कहा कि "सावरकर अध्याय बंद हो गया है।" हालांकि उन्होंने कांग्रेस नेताओं के बारे में झूठ फैलाना जारी रखने के लिए भाजपा पर हमला किया।

जयराम रमेश कांग्रेस के संचार, प्रचार और मीडिया विभाग के प्रभारी महासचिव हैं। उन्होंने सावरकर पर राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर पूछे गए सवाल पर तुरंत कहा, ‘‘सावरकर का अध्याय खत्म हो चुका है। हालांकि, मैं दोहराना चाहूंगा कि जिस दिन भाजपा और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के लोग हमारे नेताओं के बारे में झूठ बोलना बंद कर देंगे, हम उसी दिन उनके नेताओं के बारे में सच बोलना बंद कर देंगे।’’

यह टिप्पणी 20 नवंबर को जयराम रमेश द्वारा आयोजित एक अन्य प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद की गई। अपनी पहली की प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने भाजपा और कांग्रेस के बीच सावरकर विवाद के बारे में इसी तरह के बयान दिए थे। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव ने कहा था कि जिस दिन भाजपा और आरएसएस कांग्रेस के नेताओं के बारे में झूठ बोलना बंद कर देगी, उसी दिन कांग्रेस उनके नेताओं के बारे में सच बोलना बंद कर देगी।

कश्मीर मुद्दे और देश के विभाजन में कथित गलत कदमों को लेकर भाजपा लगातार भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की आलोचना करती रही है। नेहरू पर लगातार हमले का ही नतीजा है कि कांग्रेस ने सावरकर का मुद्दा उठाने से परहेज नहीं किया। राहुल गांधी ने आरोप लगाया था कि सावरकर ने रिहाई के लिए अंग्रेजों को कई दया याचिकाएं लिखी थीं। वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने याचिकाओं को सरदार पटेल और नेहरू जैसे स्वतंत्रता सेनानियों के साथ विश्वासघात बताया। शिवसेना के ठाकरे गुट के नेता संजय राउत ने इस मुद्दे को लेकर महा विकास अघाड़ी के महाराष्ट्र गठबंधन में दरार की चेतावनी दी।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ‘‘भारत जोड़ो यात्रा’’ के दौरान महाराष्ट्र में हाल ही में यह कहकर विवाद उत्पन्न कर दिया कि सावरकर ने ब्रितानी शासकों की मदद की थी और जेल में रहने के दौरान ‘डर’ के कारण उन्हें माफीनामा लिखा था। इसके अलावा, रमेश ने बताया कि भारत जोड़ो यात्रा के छह राज्यों से गुजरने के दौरान इस यात्रा में शामिल लोगों के साथ राहुल गांधी हर दिन औसतन 21 किलोमीटर पैदल चले। उन्होंने कहा, ‘‘महाराष्ट्र में ऐसे भी अवसर आए जब गांधी इस यात्रा के दौरान एक दिन में 24 किलोमीटर तक पैदल चले।’’ कांग्रेस नेता ने बताया कि कन्याकुमारी से शुरू होकर श्रीनगर में खत्म होने वाली भारत जोड़ो यात्रा के दौरान जंगली इलाकों को बस के जरिए पार किया जा रहा है।

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भी जयराम रमेश के साथ प्रेस वार्ता में शामिल हुए। गुजरात चुनाव के दौरान कांग्रेस की चुनावी संभावनाओं पर भारत जोड़ो यात्रा के संभावित प्रभाव के बारे में बात करते हुए सिंह ने प्रधानमंत्री मोदी के गुजरात अभियान पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “नरेंद्र मोदी कहते हैं कि उन्होंने खुद गुजरात का निर्माण किया। क्या यह उनके अहंकार का प्रतिबिंब नहीं है? मैं उस कहानीकार को सलाम करता हूं जो कहता है कि उसने गुजरात को खुद बनाया। लेकिन अगर वह सोचते हैं कि वह एकमात्र धर्मनिष्ठ हिंदू हैं, तो मैं उनकी कड़ी आलोचना करूंगा।"

6 नवंबर को, पीएम मोदी ने गुजरात के कपराडा में एक चुनावी रैली में, "आ गुजरात मैं बनवायू छे" (मैंने इस गुजरात को बनाया है) का नारा दिया था। प्रधानमंत्री ने गुजरात के लोगों की आत्मनिर्भरता पर जोर देते हुए कहा, “हर गुजराती, चाहे वह आदिवासी हो या मछुआरा, चाहे वह ग्रामीण हो या शहर का व्यक्ति, आज आत्मविश्वास से भरा हुआ है। लोगों ने अपनी मेहनत से इस राज्य का निर्माण किया है।”