DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Sakshi-Ajitesh ने कराया मैरिज रजिस्ट्रेशन, जानें मीडिया के सवालों पर क्या कहा

इलाहाबाद हाईकोर्ट के आदेश के बाद साक्षी-अजितेश ने बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए बरेली के उप निबंधक कार्यालय पहुंचे। बताया जा रहा है कि दोनों सुबह 10 बजकर पांच मिनट पर कलक्ट्रेट पहुंचे थे जहां पर उन्होंने मैरिज रजिस्ट्रेशन कराया। हालांकि जब उनसे बात करने की कोशिश की गई तो दोनों ने बात करने से इनकार कर दिया। 

साक्षी का छलका था दर्द

साक्षी ने अपील की थी कि उनके परिवार को बदनाम ना किया जाए। इस बार उन्होंने सोशल मीडिया पर उनके और उनके पारिवार वालों के बारे में फैली खबरों को झुठलाते हुए इसे प्रसारित करने से मना किया है। इस संबंध में उन्होंने कुछ यूटयूब चैनल्स के नाम सहित मुख्यमंत्री जनसुनवाई पोर्टल पर शिकायत की है। शिकायत में उन्होंने कहा ''मेरे मायके वालों के खिलाफ झूठी सूचनाएं प्रसारित कर उन्हें बदनाम किया जा रहा है।'' याद दिला दें कि अभी तक साक्षी अपने पिता के खिलाफ बोलती आ रहीं थीं। इस बारे उन्होंने अपने पिता और अन्य मायके पक्ष के लोगों के हित में बात की है। 

शिकायत में साक्षी ने कहा, ''मैं साक्षी मिश्रा पत्नी अजितेश कुमार पुत्री राजेश कुमार मिश्रा विधायक 123 बिथरी चैनपुर बरेली निवासी हूं। निवेदन है कि मेरे ससुराल पक्ष के खिलाफ और मेरे मायके पक्ष के खिलाफ झूठी खबरें सोशल मीडिया पर प्रसारित की जा रही हैं, जिससे देश का माहौल खराब हो रहा है।'' ''मेरे पिता के राजनीतिक जीवन पर भी प्रभाव पड़ रहा है। देश में भी अराजकता फैल रही है। मनगढ़ंत कहानी बनाई जा रही हैं। इस कारण हमें परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मैं और मेरे पति शांति से जीवनयापन करना चाहते हैं, जिसमें कठिनाई आ रही हैं। कृपया उचित कार्रवाई करें जिससे मैं और मेरे ससुराल वाले स्वतंत्र नागरिक की तरह जीवनयापन कर सकें।''

क्या है मामला 
उत्तर प्रदेश भारतीय जनता पार्टी के विधायक की बेटी ने एक दलित युवक से शादी करने के बाद अपने पिता पर सनसनीखेज आरोप लगाते हुए उनसे अपनी जान को खतरा बताया था। इसके साथ ही, पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई थी। 23 वर्षीय साक्षी मिश्रा के पिता राजेश मिश्रा बरेली जिले के बिठारी चैनपुर से विधायक हैं। साक्षी ने सोशल मीडिया पर बुधवार को एक वीडियो अपलोड करते हुए अपनी शादी 29 वर्षीय अजितेश के साथ करने का ऐलान किया।

अपनी तरफ से अपील में उन्होंने पिता से कहा कि वे उनका पीछा छोड़ दें और शांतिपूर्वक उस जोड़े को जीने दें। इसके साथ ही, अजितेश और उसके परिवार को बख्श देने नहीं तो उसके परिणाम भुगतने की पिता को साक्षी ने चेतावनी भी दी। अजितेश कुमार के साथ बैठी साक्षी ने कहा- “मैंने अपनी स्वेच्छा से शादी की है और मेरे पिता ने मेरे लिए गुंडे भेजे हैं। मैं भागते हुए थक चुकी हूं और पुलिस सुरक्षा चाह रही हूं।”

उन्होंने आगे कहा- अगर वे हमें पकड़ते हैं तो निश्चित रूप से वे हमारा कत्ल कर देंगे। अजितेश कुमार ने भी यह आरोप लगाया कि कुछ गुंडे उनका पीछा कर रहे हैं। उन्होंने कहा- उस वक्त वे बड़ी मुश्किल से बचे जब सुबह गुंडे उस होटल में पहुंच गए, जहां पर दोनों ठहरे हुए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Sakshi-Ajitesh get marriage registered On the High court order know what said on media questions