DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

RSS का तोगड़िया को मनाने का प्रयास विफल, अनशन पर अड़े

प्रवीण तोगड़िया

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के शीर्ष नेताओं का विश्व हिन्दू परिषद के पूर्व कार्याध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया को समझाने का प्रयास विफल रहा। तोगड़िया मंगलवार से अपने प्रस्तावित अनिश्चितकालीन अनशन पर अड़े हुए हैं।

संघ के गुजरात के प्रांत प्रचारक चिंतन उपाध्याय, प्रांत कार्यवाह यशवंत चौधरी और प्रांत संपर्क प्रमुख हरेश ठक्कर ने सोमवार को तोगड़िया से मुलाकात की। तोगड़िया ने साफ तौर पर कहा कि इस मुलाकात के दौरान संघ के नेताओं ने उनके अनशन के मुद्दे को लेकर चिंता जताई थी। उन्होंने कहा, मैंने उन्हें बताया कि मैं जिन मुद्दों को लेकर अनशन कर रहा हूं, वे दरअसल संघ के ही मुद्दे हैं। यह उनके कोई निजी मुद्दे नहीं है। वह उम्मीद करते हैं कि संघ इसमें उनका साथ देगा।

हिन्दुओं की आवाज दबाई गई, अब मैं VHP में नहीं-प्रवीण तोगड़िया

तोगड़िया ने कहा कि गत 14 अप्रैल को हुए विहिप के सांगठनिक चुनाव (जिसमे उनके खेमे की पराजय हुई थी) के बाद नए नेतृत्व के साथ उनका कोई मतभेद अथवा मनभेद नहीं है। वह चाहते हैं कि मौजूदा विहिप नेतृत्व भी उनकी तरह अयोध्या में राम मंदिर निमार्ण की मांग समेत हिन्दुत्व से जुड़े अन्य मुद्दों पर या तो उनके साथ यहां अनशन में जुड़े या अलग से नई दिल्ली में विहिप कार्यालय में अनशन करे।

मालूम हो कि 14 अप्रैल को गुरुग्राम में हुए चुनाव में तोगड़िया ने अपने खेमे की करारी हार के बाद आरोप लगाया था कि राम मंदिर और ऐसे अन्य हिन्दुत्व से जुड़े मुद्दे उठाने के कारण उन्हें जानबूझ कर विहिप से बाहर निकाला गया है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:RSS trying to convince Togadia fails