DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रोहित शेखर मौत: मां उज्ज्वला के खुलासे से अपूर्वा की मुश्किलें बढ़ी

ujjwala  mother of rohit shekhar

क्राइम ब्रांच यूपी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की रहस्यमयी मौत की गुत्थी सुलझाने के करीब पहुंच गई है। रविवार को रोहित की मां उज्जवला के खुलासे से पत्नी अपूर्वा की मुश्किलें बढ़ गईं। क्राइम ब्रांच तीन लोगों के बयान, दो मोबाइल नंबर और 23 कॉल डिटेल रिकॉर्ड के जरिये जांच आगे बढ़ाते हुए हत्या की कड़ियां जोड़ने में जुटी है। अब तक की तफ्तीश में काफी हद तक चीजें साफ हो गई हैं। माना जा रहा है कि क्राइम ब्रांच जल्द ही हत्याकांड से पर्दा उठाते हुए आरोपी की गिरफ्तारी कर सकती है।

सूत्रों के मुताबिक, क्राइम ब्रांच निष्कर्ष पर पहुंच चुकी है कि हत्या के पीछे किसका हाथ है। मगर हत्या की वजह और इसमें किस-किस की भूमिका है, इसके साक्ष्य एकत्र करने में पुलिस जुटी है, ताकि सब कुछ साफ किया जा सके। इस मामले में रोहित की पत्नी अपूर्वा, उसके भाई सिद्धार्थ और घर में मौजूद एक नौकर के बयान सबसे अहम माने जा रहे हैं। इसके अलावा मामले में फॉरेंसिक और तकनीकी जांच कराई जा रही है, ताकि बयानों की सत्यता परखी जा सके और सबूतों के जरिये कड़ी से कड़ी जोड़कर हत्याकांड का खुलासा किया जा सके।

हत्या की जांच: रोहित शेखर की पत्नी समेत तीन हिरासत में

कार की फॉरेंसिक जांच की
फॉरेंसिक टीम ने रविवार को उस कार की गहनता से जांच कि जिसमें रोहित को अस्पताल ले जाने की तैयारी थी, मगर तब तक उसकी मां एंबुलेंस लेकर पहुंच गई और उसे एंबुलेंस से ही ले जाया गया।

दंपति के मोबाइल की जांच
रोहित शेखर और उसकी पत्नी अपूर्वा से जुड़ी 23 कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। तफ्तीश में यह चौंकाने वाली बात सामने आई है कि 15 अप्रैल की रात करीब दो से चार बजे के बीच रोहित शेखर के मोबाइल से एक नंबर पर 12 बार कॉल की गईं। वहीं, अपूर्वा के कॉल रिकॉर्ड में शामिल कुछ नंबर भी संदेह के घेरे में हैं। ऐसे में दोनों के मोबाइल नंबर, 23 कॉल रिकॉर्ड और अपूर्वा, सिद्धार्थ एवं एक नौकर के बयान इस मामले की जांच में सबसे अहम साबित हो रहे हैं। इनके आधार पर ही क्राइम ब्रांच की तफ्तीश आगे बढ़ रही है।

रोहित शेखर हत्याकांड में पुलिस जांच में हुए नए खुलासे, पढ़ें

अपूर्वा की इंदौर में किसी से दोस्ती थी : उज्जवला
रोहित की मां उज्जवला ने रविवार को खुलकर बोला कि रोहित की पत्नी अपूर्वा अक्सर उससे लड़ती थी और उसे परेशान करती थी। रोहित के किसी महिला से संबंध के बारे में पूछे जाने पर उज्जवला ने बताया कि अपूर्वा जिसकी बात करती थी, उसे और उसके पति को वह पसंद नहीं करती थी। वह उनसे लड़ने के लिए उन्हें एक ढाल के रूप में इस्तेमाल करती थी। उज्जवला के मुताबिक, अपूर्वा की भी शादी से पहले किसी से दोस्ती थी। मैंने उसे देखा तो नहीं है और न ही उससे मिली हूं, लेकिन यह जानती हूं कि वह इंदौर का रहने वाला है, जिससे अपूर्वा की दोस्ती थी।

बहू की हमारी प्रॉपर्टी पर नजर
रोहित शेखर की मां उज्जवला का कहना है कि मेरे दोनों बेटों रोहित और सिद्धार्थ की प्रॉपर्टी पर अपूर्वा की नजर थी। उज्जवला ने यह भी खुलासा किया कि अपूर्वा अपने परिजनों को मकान देने के लिए रोहित पर दबाव बना रही थी। दरअसल, शादी के पहले उसने पास ही में चौथी मंजिल पर एक कमरा किराए पर ले रखा था, जहां उसके परिजन रुकते थे। पिछले कुछ दिनों से वह रोहित से कह रही थी कि उन्हें ऊपर चढ़ने में काफी परेशानी होती है। इस कारण वे हमारे मकान में रुकेंगे या फिर उनके लिए एक मकान बनवा दो। चूंकि, यह घर सुप्रीम कोर्ट के पास है, जहां अपूर्वा प्रैक्टिस करती है, इसलिए उसका परिवार भी चाहता था कि वे यहीं पर रहें। उनका कहना था कि बहुत जल्द ही और भी कई बातें सामने आएंगी। मैं श्रद्धांजलि सभा में जा रही हूं। जल्द बहुत सी बात का खुलासा करूंगी।

संपत्ति देने की बात पर नाराज थी
रोहित की मां का कहना है कि अपूर्वा ने जिस महिला को लेकर रोहित शेखर पर आरोप लगाए थे, उसके बेटे को सिद्धार्थ अपनी प्रॉपर्टी का हिस्सा देना चाहता था। इससे अपूर्वा बेहद नाखुश थी। वह नहीं चाहती थी कि उन्हें प्रॉपर्टी में से कुछ भी मिले। इस कारण अपूर्वा ने उस महिला को लेकर रोहित से नजदीकी की बात कहते हुए झगड़ा करना शुरू कर दिया था। वह महिला मेरी रिश्तेदार है और उसके पूरे परिवार ने हमारी हर कदम पर मदद की है। उसने मेरी बीमारी के वक्त काफी देखभाल की थी। यह देखते हुए सिद्धार्थ उन्हें प्रॉपर्टी में से कुछ देना चाहता था।

नौबत तलाक तक पहुंच चुकी थी
रोहित की मां उज्जवला ने बताया कि रोहित शेखर और उसकी पत्नी अपूर्वा के बीच पिछले कुछ समय से तलाक की बात चल रही थी। जब भी आपस में झगड़ा होता था तो इस बारे में बात होती थी। तलाक को लेकर कई बार चर्चा होने के बाद यह तय हुआ था कि इस पर जून में निर्णय होगा। हालांकि, झगड़े के बाद 3 से 29 मार्च तक अपूर्वा अपने मायके में रही। वह 30 मार्च को वापस डिफेंस कॉलोनी आ गई थी।

मैट्रीमोनियल साइट के जरिये मिले थे दोनों
अपूर्वा और रोहित की पहली मुलाकात वर्ष 2017 में हुई थी। दोनों एक मैट्रीमोनियल साइट के जरिये पहली बार लखनऊ में मिले थे। धीरे-धीरे दोनों में नजदीकी बढ़ी और इन्होंने शादी कर ली। मगर शादी के कुछ दिनों बाद ही इनके बीच झगड़ा होने लगा। छोटी-छोटी बात पर दोनों आपस में झगड़ने लगे थे। किसी भी बात पर अपूर्वा भड़क जाती थी और वह झगड़ा करने लगती थी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rohit Shekhar death case Mother Ujjwala disclosures increase problem for Rohit wife Apoorva