ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशवर्ल्ड कप में भारत की हार देख नहीं देख सका इंजीनियर, फाइनल के बाद हार्ट अटैक से मौत

वर्ल्ड कप में भारत की हार देख नहीं देख सका इंजीनियर, फाइनल के बाद हार्ट अटैक से मौत

India vs Australia: उनके दोस्त बताते हैं कि यादव भारत के 240 पर ऑल आउट होने के बाद थोड़े परेशान हो गए थे। हालांकि, जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट जल्दी चटकाए, तो वह फिर खुश हो गए थे।

वर्ल्ड कप में भारत की हार देख नहीं देख सका इंजीनियर, फाइनल के बाद हार्ट अटैक से मौत
Nisarg Dixitलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 21 Nov 2023 12:13 PM
ऐप पर पढ़ें

India vs Australia: वर्ल्ड कप 2023 के अंतिम मुकाबले में भारत की हार का दुख हर देशवासी को होगा। लेकिन तिरुपति के एक शख्स को World Cup हारने का इतना गहरा सदमा लगा कि उसकी हार्ट अटैक से मृत्यु हो गई। घटना रविवार देर  रात की है। खबर है कि अटैक से पहले वह अपने पूरे परिवार के साथ क्रिकेट मैच देख रहा था। ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 6 विकेट से हरा दिया थ। इसके साथ ही 2023 में वर्ल्ड कप तीसरी बार जीतने का सपना भी टूट गया।

मृतक की पहचान ज्योतिष कुमार यादव के तौर पर हुई है। वह बेंगलुरु में सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर काम करते थे और दिवाली की छुट्टियों में घर पर आए थे। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनके दोस्त बताते हैं कि यादव भारत के 240 पर ऑल आउट होने के बाद थोड़े परेशान हो गए थे। हालांकि, जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया के तीन विकेट जल्दी चटकाए, तो वह फिर खुश हो गए थे।

जब नेहरू के एक फैसले ने बदली भारतीय क्रिकेट की किस्मत, छिनने वाली थी ICC मेंबरशिप

वे बताते हैं कि इसके बाद मैच धीमा हुआ और ऑस्ट्रेलिया लक्ष्य के करीब आने लगा। इसके साथ ही यादव ने सीने में दर्द की शिकायत की और अचानक वह गिर गए। इसके बाद उन्हें श्री वेंकटेश्वर रामनारायण रुईया शासकीय अस्पताल में लाया गया। यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था।

वर्ल्ड कप मैच
रविवार को हुए मैच में टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम महज 240 रनों पर सिमट गई। कप्तान रोहित शर्मा ने 47 रनों की तेज पारी खेली, लेकिन भारत ने ओपनर शुभमन गिल और तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करने आए श्रेयस अय्यर के विकेट जल्दी गंवा दिए। बाद में विकेटकीपर केएल राहुल ने पारी को संभाला, लेकिन भारत बड़ा स्कोर नहीं कर सकी।

गेंदबाजी में भी भारत को शुरुआती 3 सफलताएं जल्दी मिल गई थीं। लेकिन ओपनिंग करने आए ट्रेविस हेड आखिर तक क्रीज पर डटे रहे। उन्होंने मार्नस लबुशेन के साथ साझेदारी कर ऑस्ट्रेलिया को जीत की दहलीज पर पहुंचाया।