DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

200 रुपये का कर्ज चुकाने के लिए 22 साल बाद भारत लौटे केन्या के सांसद

richard nyagaka tongi a member of parliament  mp  from kenya

दिल को सुकून देने के लिए लोग क्या-क्या नहीं करते। लेकिन केन्या के एक सांसद ने जो किया उसे जानकर सुनने वालों के दिल को भी सुकून मिल रहा है। केन्या के सांसद रिचर्ड न्यागका टोंगी महाराष्ट्र के एक दुकानदार के 200 रुपए लौटाने के लिए 22 साल बाद भारत पहुंचे हैं। दुकानदार काशीनाथ ग्वाली ने जब केन्याई सांसद को को 22 साल बाद अपने सामने पाया तो भावुक हो गए। उनका गला भर आया। सांसद रिचर्ड न्यागका टोंगी केन्या न्याड़ीबाड़ी कैशे निर्वाचन क्षेत्र से चुने गए हैं।


सोशल मीडिया पोस्ट के अनुसार, टोंगी ने महाराष्ट्र के मौलाना आजाद कॉलेज से 1985-89 के दौरान मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहे थे। इसी दौरानी काशीनाथ ग्वाली की दुकान से वह उधार 200 रुपए का राशन व खाने पीने का सामान लिया था। 

पढ़ाई पूरी करने बाद जब वह केन्या लौटे तो उनपर ग्वाली का 200 रुपए का कर्ज रह गया था। ग्वाली तब वानखेडेनगर इलाके में अपनी दुकान चलाते थे। जहां टोंगी पहुंचे वहां ग्वाली का आवास है। 

200 रुपए के लिए केन्या से भारत आने पर जब टोंगी से पूछा गया तो उन्होंने कहा, "मेरे ऊपर 22 सालों से 200 रुपए का कर्ज था। उन्होंने मुझे खाना खिलाया, लेकिन मैंने उनका कर्ज नहीं चुकाया। मैं यही कर्ज चुकाने के लिए इंडिया आया हूं। अब मेरे दिल को तसल्ली मिली है।"

अपनी पत्‍नी के साथ महाराष्ट्र के औरंगाबाद पहुंचे टोंगी ने बताया कि यहां पहुंचने की उनकी यात्रा भावनाओं से भरी रही। 

जब में औरंगाबाद में छात्र के रूप में रह था तब बहुत कमजोर था और ऐसे वक्त में इन लोगों ने मेरी मदद की थी। एक दिन मैंने सोचा कि कभी मैं वापस आऊंगा और अपना कर्ज अदा करूंगा। मैं इन लोगों को धन्यवाद कहना चाहता हूं। यह मेरे लिए भावनात्मक क्षण है।'

बुजुर्ग ग्वाली और उनके बच्चों को ईश्वर लंबी उम्र दे। ये मेरे लिए शानदार लोग हैं। ग्वाली के परिवार वालों ने मुझे खाने पर एक होटल ले जाना चाहा लेकिन मैंने कहा कि हमें आपके घर में खाना चाहिए।"

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Richard Nyagaka Tongi A Member of Parliament from Kenya returned india to repay Rs 200 debt after 22 years