DA Image
14 अगस्त, 2020|5:43|IST

अगली स्टोरी

नागरिक विमानन मंत्री ने कहा- दूसरे देशों पर निर्भर है अंतरराष्ट्रीय विमानों की शुरुआत, साल अंत तक सभी घरेलू उड़ानें

civial aviation minister hardeep puri  file pic

नागरिक विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा है कि घरेलू विमानन सेवाओं की पूरी क्षमता के साथ शुरुआत साल के अंत तक हो सकती है तो अंतरराष्ट्रीय उड़ानें कब शुरू होंगी यह दूसरे देशों पर भी निर्भर है। मंत्री ने कहा कि जब दूसरे देश विमानों को स्वीकार करेंगे तभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू हो सकती हैं, तब तक वंदे भारत मिशन के तहत ही लोगों को देश लाया जा सकता है।

हरदीप सिंह पुरी ने कहा, ''हम घरेलू विमानों की सेवा बढ़ाएंगे। मौजूदा समय में हमने केवल 33 फीसदी विमानों को इजाजत दी है। विमान पूरी कैपिसिटी के साथ नहीं उड़ रहे हैं। जहां अधिक डिमांड है उन रूटों पर हम और विमान बढ़ाएंगे। यदि कहीं मांग अधिक है तो हम 40-45% सर्विस शुरू करने को तैयार हैं।''

मंत्री ने बताया कि घरेलू निजी विमानन कंपनियों को वंदे भारत मिशन के तीसरे और चौथे चरण में फंसे हुए लोगों को पहुंचाने के लिए 750 उड़ानों के संचालन की पेशकश की गई है। विमानन सचिव पी एक खरोला ने कहा कि स्थिति कैसी रहती है इसके आधार पर विमान किराए की अधिकतम और न्यूनतम सीमा को 24 अगस्त के बाद बढ़ाया जा सकता है।

मंत्री ने बताया कि विदेशों से अब तक 2 लाख 75 हजार भारतीयों को लाया जा चुका है। इनमें से 1 लाख 9 हजार लोगों को एयर इंडिया के जरिए देश लाया गया है। जबकि 1 लाख 43 हजार भारतीय दूसरे देशों के विमानों से भारत आए हैं। हजारों लोगों को बस और जहाजों के जरिए भी लाया गया है। 

नागरिक विमानन मंत्री ने बताया कि लाइफलाइन उड़ान योजना के तहत एयर इंडिया, एलायंस एयर, इंडियन एयरफोर्स और निजी कंपनियों के 588 विमानों ने उड़ान भरी है। इन विमानों से देश के कोने-कोने में कोरोना वायरस से लड़ने के लिए चिकित्सा उपकरण और दवाइयों को भेजा गया है। इन विमानों ने अब तक 940 टन सामान ढोया है। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:resume international flight depends on the other countries says Civil Aviation Minister Hardeep Singh Puri