ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशपीओके में हो रही संसाधनों की लूट, भारत ने बताया क्यों भड़के हैं वहां के लोग

पीओके में हो रही संसाधनों की लूट, भारत ने बताया क्यों भड़के हैं वहां के लोग

पीओके में हो रहे विरोध प्रदर्शन पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जयसवाल ने शुक्रवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरा कहा कि पीओके के संसाधनों की लूट हो रही है जिससे वहां के लोग गुस्से में हैं।

पीओके में हो रही संसाधनों की लूट, भारत ने बताया क्यों भड़के हैं वहां के लोग
Amit Kumarएजेंसियां,नई दिल्लीFri, 17 May 2024 07:05 PM
ऐप पर पढ़ें

पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (PoK) में पिछले कई दिनों से भारी विरोध प्रदर्शन जारी है। पिछले दिनों पीओके में प्रदर्शनकारियों पर सुरक्षा बलों द्वारा गोलियां चलाए जाने से कम से कम तीन लोगों की मौत हो गई और छह अन्य लोग घायल हो गए। अब इसको लेकर भारत ने आधिकारिक बयान जारी किया है। पीओके में हो रहे विरोध प्रदर्शन पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रणधीर जयसवाल ने शुक्रवार को मीडिया ब्रीफिंग के दौरा कहा कि पीओके के संसाधनों की लूट हो रही है जिससे वहां के लोग गुस्से में हैं। 

विदेश मंत्रालय ने कहा, "हमने पिछले कुछ दिनों में वहां हुए विरोध प्रदर्शन की रिपोर्ट देखी है... ये विरोध प्रदर्शन इस बात का सबूत है कि वहां की नीतियों के कारण संसाधनों की लूट हो रही है और लोगों को उनके संसाधनों से वंचित किया जा रहा है। विरोध प्रदर्शन इसी का परिणाम है। प्रशासन लोगों का शोषण कर रहा है... जहां तक पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर का सवाल है, तो केंद्र शासित प्रदेश जम्मू, लद्दाख और कश्मीर भारत का अभिन्न अंग हैं और हमेशा रहेगा।"

उन्होंने कहा, “ऐसी शोषणकारी नीतियां स्थानीय लोगों को उनके संसाधनों और उनके लाभों पर अधिकार से वंचित करती हैं।” जयसवाल ने आगे कहा कि यह मुद्दा भारत की क्षेत्रीय अखंडता और संप्रभुता को प्रभावित करता है। भारत ने हमेशा यह कहा है कि पाकिस्तान ने 1947 में आजादी के बाद से तत्कालीन भारतीय राज्य जम्मू और कश्मीर के कुछ हिस्सों पर अवैध रूप से कब्जा कर लिया।   

खबरों के मुताबिक, पीओके में प्रदर्शनकारी गेहूं के आटे की ऊंची कीमतों और बिजली के बढ़े हुए दामों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। प्रदर्शनकारियों और क्षेत्रीय सरकार के बीच गतिरोध बढ़ने के बाद सोमवार को प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने क्षेत्र के लिए 23 अरब रुपये की सब्सिडी की तत्काल मंजूरी दी थी। खबर के मुताबिक, सब्सिडी देने का सरकार का फैसला इस क्षेत्र को शांत करने में विफल रहा। खबर के अनुसार, 40 किलोग्राम आटे की सब्सिडी दर 3,100 पाकिस्तानी रुपये से कम करके 2,000 पाकिस्तानी रुपये कर दी गई है। खबर के अनुसार 100, 300 और 300 यूनिट से अधिक के लिए बिजली के दाम घटाकर क्रमश: तीन रुपये, पांच रुपये और छह रुपये प्रति यूनिट कर दिए गए हैं।

पीओके भारत का है, रहेगा और उसे लेकर रहेंगे: अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बृहस्पतिवार को विपक्षी ‘‘इंडिया’’ गठबंधन पर प्रहार करते हुए कहा कि पाकिस्तान के कब्जे वाला कश्मीर (पीओके) भारत का है, रहेगा और उसे लेकर रहेंगे। बिहार के सीतामढ़ी और मधुबनी में राजग उम्मीदवारों के पक्ष में अलग-अलग रैलियों को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, ‘‘ये कांग्रेस वाले, ये फारूक अब्दुल्ला हमें डराते हैं कि पीओके मत मांगिए, उनके पास (पाकिस्तान के पास) एटम बम है। अरे राहुल बाबा, आपको डरना है तो डरिए पाकिस्तान से, एटम बम से, यह 140 करोड़ (लोगों) का महान भारत है, वह किसी से नहीं डरता। मैं आज सीता माता की धरती पर कहकर जाता हूं, पीओके भारत का है, रहेगा और वह हम लेकर रहेंगे ।’’