ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News देशजब रवि किशन ने सांसद पद की ली शपथ, 'हर-हर महादेव' के नारे से गूंजा सदन

जब रवि किशन ने सांसद पद की ली शपथ, 'हर-हर महादेव' के नारे से गूंजा सदन

भारतीय जनता पार्टी के नेता रवि किशन ने लगातार दूसरी बार गोरखपुर लोकसभा सीट से जीत दर्ज की है। हालांकि, 2019 के चुनाव की तुलना में इस बार उनकी जीत का अंतर 3 लाख से कम होकर 1 लाख वोटों पर आ गया।

जब रवि किशन ने सांसद पद की ली शपथ, 'हर-हर महादेव' के नारे से गूंजा सदन
Niteesh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 25 Jun 2024 11:30 PM
ऐप पर पढ़ें

भाजपा नेता रवि किशन ने मंगलवार को दूसरी बार लोकसभा सांसद के रूप में शपथ ली। इस दौरान वह एक योगी के अंदाज में नजर आए और हिंदू धार्मिक मंत्र का जाप भी किया। शपथ लेने के बाद रवि किशन ने कहा, 'बाबा गोरखनाथ महाराज की जय, हर-हर महादेव।' महादेव का मंत्रोच्चार होते ही सदन में दूसरे सांसद भी जयकारे करते सुनाई दिए। इतना ही नहीं, रवि किशन ने आखिर में 'जय भोजपुरी' भी कहा। उस समय अध्यक्षता कर रहे सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते से उन्होंने हाथ मिलाया। इसके बाद वह मुस्कुराते हुए मंच से नीचे चले गए। मालूम हो कि उत्तर प्रदेश का गोरखपुर रवि किशन का निर्वाचन क्षेत्र है जो गोरखनाथ मंदिर के लिए जाना जाता है।

रवि किशन ने लगातार दूसरी बार गोरखपुर लोकसभा सीट से जीत दर्ज की है। हालांकि, 2019 के चुनाव की तुलना में इस बार उनकी जीत का अंतर 3 लाख से कम होकर 1 लाख वोटों पर आ गया। हाल ही में बीते आम चुनावों के दौरान उत्तर प्रदेश में भाजपा का प्रदर्शन खराब रहा है, जहां भगवा दल घटकर 33 सीटों पर आ गया। अगर 2019 की बात करें तो बीजेपी ने 80 में से 62 सीटों पर विजय पताका फहराया था। ऐसे में 2024 के चुनावी नतीजे भाजपा के लिए एक झटके की तरह रहे। लोकसभा सीटों के मामले में समाजवादी पार्टी राज्य में सबसे आगे रही और बीजेपी दूसरे नंबर पर आ गई। 

शपथ को लेकर सदन में हुआ हंगामा
गौरतलब है कि रवि के किशन के शपथ लेने से पहले एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ ली। इस दौरान उन्होंने युद्ध प्रभावित पश्चिम एशियाई क्षेत्र के पक्ष में नारे लगाए, जिसके बाद सत्ता पक्ष के सदस्यों ने हंगामा किया और सभापति ने इसे रिकॉर्ड से हटाने का निर्देश दिया। ओवैसी हैदराबाद लोकसभा सीट से 5वीं बार सदस्य चुने गए हैं। आज उन्होंने उर्दू में शपथ ली। शपथ लेने से पहले उन्होंने दुआ पढ़ी। अपनी शपथ के बाद ओवैसी ने मुस्लिमों के लिए एआईएमआईएम का नारा बुलंद करने के अलावा अपने राज्य तेलंगाना, बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के पक्ष में नारा लगाया। उन्होंने पश्चिम एशिया के उस क्षेत्र के पक्ष में नारा लगाया जो वर्तमान में युद्ध का सामना कर रहा है और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर चर्चा के केंद्रबिंदु में है। उनकी शपथ के बाद सत्ता पक्ष के कुछ सदस्यों ने आपत्ति जताई, जिससे सदन में हंगामा शुरू हो गया।

Advertisement