DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   देश  ›  गाय के गोबर से कम होगा रेडिएशन, मोबाइल में हो इससे बनी चिप का इस्तेमाल: राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन
देश

गाय के गोबर से कम होगा रेडिएशन, मोबाइल में हो इससे बनी चिप का इस्तेमाल: राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Mrinal Sinha
Tue, 13 Oct 2020 11:03 AM
गाय के गोबर से कम होगा रेडिएशन, मोबाइल में हो इससे बनी चिप का इस्तेमाल: राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन

गौमूत्र और गाय को लेकर कई तरह के दावे किए जाते हैं लेकिन इनपर अकसर विवाद उठ जाता है। इसी कड़ी में  मत्स्य, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले राष्ट्रीय कामधेनु आयोग के चेयरमैन वल्लभभाई कथीरिया ने गाय के गोबर को लेकर एक अलग दावा किया है।  कथीरिया ने कहा है कि गाय का गोबर रेडिएशन रोक सकता है, जिसका इस्तेमाल मोबाइल में होना चाहिए।

उन्होंने बीते सोमवार को  'कामधेनु दीपावली अभियान' के राष्ट्रव्यापी अभियान के दौरान गाय के गोबर से बनी एक चिप का अनावरण किया। इस चिप को गौसत्व कवच का नाम दिया गया है। गौसत्व कवच को गुजरात के राजकोट स्थित श्रीजी गौशाला द्वारा निर्मित किया गया है।  इस दौरान उन्होंने दावा किया कि यह चिप मोबाइल हैंडसेट से निकलने वाले रेडिएशन को काफी कम कर देता है।

 

उन्होंने कहा कि यदि आप बीमारी से बचना चाहते हैं तो इस चिप का इस्तेमाल कर सकते हैं। कथीरिया ने दावा किया कि गाय का गोबर एंटी-रेडिएशन है और सभी की रक्षा करता है। यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध है। चिप का उपयोग विकिरण को कम करने के लिए मोबाइल फोन में किया जा सकता है जो आपको बीमारियों से सुरक्षित रखेगा। इस आयोग की स्थापना केंद्र ने फरवरी, 2019 में की गई थी। इसका उद्देश्य 'गायों का संरक्षण और विकास' है।

संबंधित खबरें