DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रांची में PM मोदी: तीन करोड़ छोटे व्यापारियों को पेंशन

                          pm

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राजधानी रांची के प्रभात तारा मैदान में एक जनसभा में छोटे कारोबारियों और किसानों के लिए दो बड़ पेंशन योजनाओं की शुरुआत की। इस मौके पर उन्होंने कहा कि हमने कामदार और दमदार सरकार देने का वादा किया था। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन में हमने संकल्प और विकास का ट्रेलर दिखा दिया है, फिल्म अभी बाकी है। 

शुरू की गई दो योजनाओं का लाभ देशभर में तीन करोड़ कारोबारियों और करीब पांच करोड़ छोटे किसानों को मिलेगा। मोदी ने आयुष्मान योजना की याद दिलाते हुए कहा कि झारखंड केंद्रीय योजनाओं के लिए लांचिंग पैड बन गया है। प्रधानमंत्री ने देश के जनजातीय क्षेत्रों में 462 एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय का ऑनलाइन शिलान्यास किया। इसके तहत झारखंड के 13 जिलों में 69 एकलव्य विद्यालय खोले जा रहे हैं।

मोदी ने झारखंड विधानसभा के नए भवन और 1238 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले झारखंड सचिवालय के नए भवन का भी शिलान्यास किया। उन्होंने साहेबगंज में मल्टीमॉडल बंदरगाह का भी उद्घाटन किया। सभा को झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास के अलावा केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा और संतोष गंगवार ने भी संबोधित किया।

कारोबारी पेंशन योजना : पहली बार सरकार ने खुदरा व्यापार करने वाले दुकानदारों को पेंशन योजना से जोड़ने की पहल की है। इसके तहत 60 वर्ष के हो चुके खुदरा व्यापारियों एवं दुकानदारों को तीन हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी।

किसे मिलेगा लाभ :  कारोबारी पेंशन एक स्वैच्छिक योजना है जिसमें 18 से 40 वर्ष के बीच के लोग शामिल हो सकते हैं।  कारोबारी के अंशदान के बराबर ही सरकार इस योजना में अंशदान करेगी। कुल 1.5 करोड़ सालाना से कम टर्नओवर वाले व्यापारी इसमें शामिल हो सकते हैं। एनपीएस योजना में पंजीकृत लोग और आयकर देने वाले कारोबारी इसका लाभ नहीं ले सकेंगे।

किसान मानधन योजना : मोदी ने प्रधानमंत्री किसान मानधन योजना का भी शुभारंभ किया। इसके तहत 18 से 40 साल के किसानों का पंजीकरण हो सकेगा। किसानों को 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद तीन हजार रुपये की मासिक पेंशन मिलेगी।

इन किसानों को लाभ : किसान मानधन योजना का लाभ पाने के लिए 18 से 40 साल की उम्र के दो हेक्टेयर से कम जमीन वाले किसान पंजीकरण करा सकेंगे। उम्र के हिसाब से किसानों को 55 से 200 रुपये मासिक तक योगदान करना होगा। एनपीएस या किसी अन्य सामाजिक सुरक्षा का लाभ उठाने वाले किसानों का इसका लाभ नहीं मिलेगा। 

कहां कराएं पंजीकरण : पेंशन योजना का लाभ उठाने के लिए नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर में जाकर आधार कार्ड और बैंक खाते का विवरण देकर पंजीकरण कराना होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:ranchi mein pm modi teen crore chhote vyapariyon ko pension