ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशरामलला ने तोड़ा रिकॉर्ड, एक महीने में दर्शन को पहुंचे 60 लाख श्रद्धालु; दान में मिले इतने करोड़

रामलला ने तोड़ा रिकॉर्ड, एक महीने में दर्शन को पहुंचे 60 लाख श्रद्धालु; दान में मिले इतने करोड़

22 जनवरी को अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की गई। तब से अब तक रामलला को दान में करोड़ों रुपये मिल चुके हैं। इन 30 दिनों में 60 लाख श्रद्धालु राम मंदिर पहुंचे हैं।

रामलला ने तोड़ा रिकॉर्ड, एक महीने में दर्शन को पहुंचे 60 लाख श्रद्धालु; दान में मिले इतने करोड़
Himanshu Tiwariलाइव हिन्दुस्तान,अयोध्याThu, 22 Feb 2024 03:00 PM
ऐप पर पढ़ें

अयोध्या के राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को एक महीने हो गए हैं। 22 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूरे विधि विधान के साथ भव्य राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा अनुष्ठान में हिस्सा लिया। अब श्याम रंग की शिला से तैयार रामलला के दर्शन के लिए भक्तों का तांता लगा है। रामलला हर दिन रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं और नए रिकॉर्ड स्थापित कर रहे हैं। राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के बाद देश-विदेश के कोने-कोने से श्रद्धालु दर्शन को पहुंच रहे हैं। 22 जनवरी को हुई प्राण प्रतिष्ठा के बाद एक महीने में 25 किलोग्राम सोने और चांदी के आभूषण सहित लगभग 25 करोड़ रुपये का दान मिला है।

राम मंदिर ट्रस्ट के कार्यालय प्रभारी प्रकाश गुप्ता ने बताया कि 25 करोड़ रुपये की राशि में चेक, ड्राफ्ट और मंदिर ट्रस्ट के कार्यालय में जमा की गई नकदी के साथ-साथ दान पेटियों में जमा राशि भी शामिल है। उन्होंने बताया, ''हालांकि हमें ट्रस्ट के बैंक खातों में ऑनलाइन माध्यम से भेजे गए धन के बारे में जानकारी नहीं है।'' गुप्ता ने कहा, "23 जनवरी से अब तक लगभग 60 लाख श्रद्धालु दर्शन कर चुके हैं।"

ट्रस्ट के कार्यालय प्रभारी प्रकाश गुप्ता के मुताबिक, गर्भगृह के सामने दर्शन पथ के पास चार बड़े आकार की दान पेटियां रखी गई हैं, जिनमें श्रद्धालु दान कर रहे हैं। इसके अलावा 10 कम्प्यूटरीकृत काउंटरों पर भी लोग दान करते हैं। इन दान काउंटरों पर मंदिर ट्रस्ट के कर्मचारियों को नियुक्त गया है, जो शाम को काउंटर बंद होने के बाद प्राप्त दान राशि का हिसाब ट्रस्ट कार्यालय में जमा करते हैं।

दान की गिनती में लगे हैं कर्मचारी
14 कर्मचारियों की एक टीम चार दान पेटियों में आए चढ़ावे की गिनती कर रही है, जिसमें 11 बैंक कर्मचारी और तीन मंदिर ट्रस्ट के कर्मचारी शामिल हैं। गुप्ता ने कहा कि दान राशि जमा करने से लेकर उसकी गिनती तक सब कुछ सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में किया जाता है। 

क्या है राम मंदिर की टाइमिंग 
मंदिर के उद्घाटन के एक महीने बाद भी श्रद्धालुओं की संख्या में कोई कमी नहीं आई है। मंदिर प्रशासन के नए समय के मुताबिक, रामलला की मूर्ति की श्रृंगार आरती सुबह 4.30 बजे शुरू होगी। सुबह 6.30 बजे मंगल प्रार्थना की गई। इसके बाद सुबह 7 बजे से मंदिर भक्तों के दर्शन के लिए खोल दिया जाता है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें