ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News देशकिसान आंदोलन की धार होगी और तेज, अब 7 फरवरी को हरियाणा की महापंचायत में हुंकार भरेंगे राकेश टिकैत

किसान आंदोलन की धार होगी और तेज, अब 7 फरवरी को हरियाणा की महापंचायत में हुंकार भरेंगे राकेश टिकैत

भारतीय किसान यूनियन के नेता राजेश टिकैत 7 फरवरी को दादरी के चरखी गांव में महापंचायत को संबोधित करने वाले हैं। सांगवान खाप पंचायत के मुखिया सोमबीर सांगवान ने इस बात की जानकारी दी है। बुधवार को भी जिंद...

किसान आंदोलन की धार होगी और तेज, अब 7 फरवरी को हरियाणा की महापंचायत में हुंकार भरेंगे राकेश टिकैत
लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 05 Feb 2021 06:45 AM
ऐप पर पढ़ें

भारतीय किसान यूनियन के नेता राजेश टिकैत 7 फरवरी को दादरी के चरखी गांव में महापंचायत को संबोधित करने वाले हैं। सांगवान खाप पंचायत के मुखिया सोमबीर सांगवान ने इस बात की जानकारी दी है। बुधवार को भी जिंद के कंडेला गांव में हुई इसी तरह की एक बैठक में टिकैत को लोगों की जोरदार प्रतिक्रिया मिली।

हरियाणा के दादरी के एक निर्दलीय विधायक सांगवान ने कहा, “हमने महापंचायत से संबंधित रणनीति पर चर्चा करने के लिए भिवानी के किटनाल टोल प्लाजा में क्षेत्र के सभी खापों की बैठक बुलाई है। आंदोलन ने जिले में गति पकड़ ली है और हम यहां जींद की बैठक से बड़ी भीड़ की उम्मीद कर रहे हैं।”

 

दादरी जिले के तीन खापों - सांगवान, फोगाट और श्योराण ने हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला, भिवानी-महेंद्रगढ़ के सांसद धर्मबीर सिंह और दादरी के पूर्व विधायक राजदीप फोगट का सामाजिक बहिष्कार किया है।

 

विशेषज्ञों ने कहा कि टिकैत द्वारा जाट समुदाय के प्रभुत्व वाले क्षेत्रों में महापंचायतों को संबोधित करने का निर्णय राज्य में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी-जेजेपी गठबंधन को संकेत देगा।

 

महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में राजनीतिक विज्ञान के प्रोफेसर राजेंद्र शर्मा ने कहा, "कंडेला रैली ने हरियाणा की प्रमुख कृषक समुदाय जाटों के बीच अशांति के बारे में सत्तारूढ़ भाजपा-जेजेपी गठबंधन सरकार को एक स्पष्ट संकेत दिया है।"

 

इस बीच, उत्तर प्रदेश के शामली जिले में, अधिकारियों ने प्रदर्शनकारी किसानों को शुक्रवार को जिले में महापंचायत आयोजित करने से इनकार कर दिया। प्रशासन ने 3 अप्रैल तक बड़े समारोहों पर भी प्रतिबंध लगा दिया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें