DA Image
28 जुलाई, 2020|3:59|IST

अगली स्टोरी

Rajasthan crisis Live Updates: रणदीप सुरजेवाला बोले- कल सुबह एक बार फिर होगी कांग्रेस विधायक दल की बैठक

rs surjewala

राजस्थान में जारी राजनीतिक उठा पटक के बीच कांग्रेस विधायक दल की बैठक सोमवार दोपहर मुख्यमंत्री निवास में हुई। इस बैठक के बाद मुख्यमंत्री गहलोत के मीडिया सलाहकार ने बताया कि कुल 107 विधायक मौजूद रहे। वहीं, अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने अपने विधायकों की परेड कराई। बैठक में कांग्रेस के साथ साथ उसके सहयोगी दलों के विधायक भी शामिल थे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं उप-मुख्यमंत्री सचिन पायलट द्वारा बगावती तेवर अपनाए जाने से उपजे संकट के बीच यह बैठक सुबह साढे़ दस बजे शुरू होनी थी लेकिन दोपहर लगभग डेढ़ बजे यह शुरू हुई। बैठक शुरू होने से पहले मीडिया को वहां मौजूद विधायकों व नेताओं की फोटो लेने की अनुमति दी गई। बैठक में कांग्रेस के साथ साथ बीटीपी के दो, माकपा के एक, आरएलडी के एक विधायक तथा कांग्रेस का समर्थन कर रहे निर्दलीय विधायक भी मौजूद हैं। इसके साथ ही दिल्ली से आए कांग्रेस के महासचिव के सी वेणुगोपाल, पार्टी के प्रदेश प्रभारी अनिवाश पांडे व राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला भी बैठक में रहे।

Rajasthan Political Crisis Live Updates: 

- कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बताया कि कल सुबह 10 बजे एक बार फिर से कांग्रेस विधायक दल की बैठक बुलाई गई है। सचिन पायलट और अन्य विधायकों को भी बैठक में शामिल होने का न्योता भेजा गया है।

- कांग्रेस के विधायक दल की बैठक खत्म होने के बाद विधायकों को मुख्यमंत्री आवास से बस से ले जाया गया।

- मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के मीडिया सलाकार ने पुष्टि की है कि विधायक दल की बैठक में 107 विधायक मौजूद रहे हैं।

जयपुर में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर विधायक दल की बैठक शुरू हो गई है। इस बैठक में कांग्रेस नेता अजय माकन और रणदीप सिंह सुरजेवाला भी मौजूद हैं।

अशोक गहलोत के आवास पर मीडिया के सामने विधायकों की परेड कराई जा रही है। सोनिया गांधी, राहुल गांधी जिंदाबाद के नारे। 109 विधायकों के सीएम आवास में मौजूद होने का दावा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने रणदीप सिंह सुरजेवाला, अजय माकन के साथ विक्ट्री साइन बनाई।


कांग्रेस विधायक दल की बैठक 10:30 बजे निर्धारित की गई थी। लेकिन सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर यह बैठक कई बार टालनी पड़ी। 
कांग्रेस विधायक राजेंद्र गुढ़ा ने सोमवार को कहा कि भाजपा ने उन्हें अशोक गहलोत सरकार को गिराने के लिए बड़ी रकम देने की पेशकश की। जयपुर में सीएम आवास के बाहर पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि सरकार के पास पूरी संख्या है। उन्होंने दावा किया कि भाजपा के कुछ विधायक भी सरकार के संपर्क में हैं। गुढ़ा उन सात बसपा विधायकों में से हैं जो कांग्रेस में शामिल हो गए थे।

राजस्थान बीजेपी अध्यक्ष सतीश पुनिया ने कहा कि सचिन पायलट राजस्थान के सीएम पद के लिए सही उम्मीदवार थे, लेकिन अशोक गहलोत ने कार्यभार संभाल लिया, तब से पार्टी में संघर्ष शुरू हो गया। आज जो हो रहा है, वह उसी संघर्ष का परिणाम है। राज्य सरकार बहुमत खो चुकी है।

रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा किकभी-कभी वैचारिक मतभेद उत्पन्न हो जाता है जो प्रजा​तांत्रितक प्रणाली में स्वा​भाविक है। परंतु वैचारिक मतभेद पैदा होने से चुनी हुई अपनी ही पार्टी की सरकार को कमजोर करना या भाजपा को खरीद-फरोख्त का मौका देना अनुचित है।

कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस नेतृत्व ने पिछले 48 घंटे में सचिन पायलट से अनेकों बार बात की है। व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा वाजिब हो सकती है, लेकिन राजस्थान व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा से बड़ा है। साथ ही उन्होंने कहा कि मतभेद है तो पार्टी आलाकमान के दरवाजे खुले हैं, कांग्रेस विधायक दल की बैठक में शामिल हों सचिन पायलट।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के प्रभारी पीएल पुनिया ने कहा है कि सचिन पायलट अब बीजेपी में हैं।

बीजेपी नेता ओम माथुर ने कहा, 'राजस्थान के लोगों ने कांग्रेस को राज्य में सरकार बनाने का मौका दिया था, उन्हें इसका सही इस्तेमाल करना चाहिए था। सीएम को अपनी सरकार बरकरार रखनी चाहिए थी, लेकिन वह ऐसा नहीं कर पा रहे हैं। उनकी पार्टी के विधायक उनसे खुश नहीं हैं।'

कांग्रेस विधायक महेंद्र चौधरी ने कहा,​​​​​​ 'ये कोई दूसरा प्रदेश नहीं है कि भाजपा किसी प्रकार के प्रयास कर सके। आज का दिन तय कर देगा, भाजपा को मात खानी पड़ेगी। भाजपा अपने विधायकों को संभाल कर रखे कहीं कांग्रेस के चक्कर में उनके खुद के विधायक उस पार्टी से न निकल जाएं।'

राजस्थान कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे ने कहा, 'मैंने उनसे(सचिन पायलट)बात करने की कोशिश की और मैसेज भी भेजे लेकिन उन्होंने अब तक जवाब नहीं दिया।वह पार्टी से ऊपर नहीं हैं। पार्टी उनकी बात सुनने को तैयार है लेकिन कोई अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। मुझे उम्मीद है कि वह बैठक के लिए आएंगे।'

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, आज सुबह 10.30 बजे कांग्रेस विधायक दल की बैठक होने के साथ, 16 कांग्रेस विधायकों का जयपुर पहुंचना बाकी है। सूत्रों के अनुसार, इन विधायकों में राकेश पारीक, मुरारी लाल मीणा, जीआर खटाना, इंद्राज गुर्जर, गजेंद्र सिंह, हरीश मीणा, देपेंद्र सिंह शेखावत, भंवर लाल शर्मा, विजेंद्र ओला, पीआर मीणा, रमेश मीणा, विश्वेंद्र सिंह, जाहिदा रामनिवास गावडिया मुकेश भाकर, हेमा राम चौधरी और सुरेश मोदी शामिल हैं। 

सूत्रों ने कहा, अगर वे बैठक में भाग लेने नहीं आते हैं, तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की संभावना है, जैसा कि कल कांग्रेस के अविनाश पांडे ने कहा था और यह संभव है कि उनकी सदस्यता रद्द कर दी जाए। इस बीच, कांग्रेस नेता केसी वेणुगोपाल के आज जयपुर पहुंचने की उम्मीद है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rajasthan Political Crisis LIVE Updates Sachin Pilot Ashok Gehlot Congress BJP Congress meeting