DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थानः BJP विधायक व पूर्व कांग्रेस विधायक का घर फूंका, कर्फ्यू लागू, 40 लोग हिरासत में

अलवर में हुई हिंसा

राजस्थान के करौली जिले के हिंडौन कस्बे में उग्र भीड़ द्वारा विधायक और पूर्व विधायक के घर आगजनी की घटना के बाद कस्बे में कर्फ्यू लगा दिया गया। करौली जिला कलेक्टर अभिमन्यु कुमार ने बताया कि लगभग पांच हजार लोगों की उग्र भीड़ ने वर्तमान भाजपा विधायक राजकुमारी जाटव और कांग्रेस के पूर्व विधायक भरोसी लाल जाटव के घर में आग लगा दी। 

उन्होंने बताया कि आज कस्बे में पथराव और आगजनी की घटनाओं के बाद से सुबह से ही स्थिति तनावपूर्ण थी। विधायक और पूर्व विधायक के घर में आगजनी की घटना के बाद बुधवार सुबह तक के लिये कस्बे में कर्फ्यू लगा दिया गया। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) एन आर के रेड्डी ने बताया कि व्यापार मंडल और उच्च जाति के लोगों ने आज हिंडौन सिटी में जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया और अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति बाहुल्य क्षेत्र में प्रवेश करने का प्रयास किया। 

उन्होंने बताया कि भीड़ को तीतर-बितर करने के लिये पुलिस ने लाठीचार्ज किया, आंसू गैस के गोले छोडे़ और रबड़ की गोलियां चलाई। करौली पुलिस अधीक्षक अनिल कायल ने बताया कि आगजनी और पथराव की घटना के बाद लगभग 40 लोगों को हिरासत में लिया गया है। 

ये दोनों नेता दलित समुदाय से आते हैं। मौजूदा विधायक राजकुमारी जाटव भाजपा नेता हैं, जबकि पूर्व विधायक कांग्रेस के नेता हैं। बताया जा रहा है कि इलाके में सोमवार को हुई हिंसा के जवाब में आज सुबह यहां भीड़ जमा होने लगी। धारा 144 लागू होने के बावजूद धीरे-धीरे ये संख्या 40 हजार तक पहुंच गई। 

 

व्यापारियों का बंद

करौली जिले के हिंडौन में सोमवार को दुकान और वाहन जलाए जाने के खिलाफ व्यापारी और दूसरे समाज के लोगों ने आज बंद का आह्वान किया था। इसी दौरान बड़ी संख्या में लोग कलेक्टर को ज्ञापन देने जा रहे थे। हालात तनावपूर्ण देखते हुए इलाके में धारा 144 लागू की गई थी। लेकिन इसका उल्लंघन करते हुए बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। 

बताया जा रहा है कि इसी दौरान भीड़ ने करौली से वर्तमान भाजपा विधायक राजकुमारी जाटव के घर को निशाना बनाया और आग लगा दी। इतना ही नहीं भीड़ ने पूर्व विधायक को भी नहीं बख्शा। इलाके के पूर्व कांग्रेस विधायक भरोसीलाल जाटव के घर को भी आग के हवाले कर दिया गया। 

करौली में जमकर हुई थी लूटपाट 
इससे पहले सोमवार को करौली के हिंडौसिटी में बंद के दौरान भारी उत्पात की खबर थी। बंद समर्थकों ने बाजारों में जमकर लूटपाट और मारपीट की थी। इससे पूरे शहर में दहशत और भय का माहौल व्याप्त हो गया। भीड़ ने प्रदर्शन के दौरान पुलिस पर भी पथराव किया। उपद्रवियों ने कई एटीएम मशीन में भी तोड़फोड़ कर दी थी। 

मॉल में लगाई आग

भीड़ ने सिर्फ दलित नेताओं को ही निशाना नहीं बनाया। बल्कि संपत्ति को भी नुकसान पहुंचाया। यहां एक मॉल में आग लगा दी गई. जिसके बाद भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। कहा जा रहा है कि इस मामले में पुलिस प्रशासन की बड़ी चूक सामने आ रही है।

भारत बंद में एक की मौत
भारत बंद के दौरान राजस्थान में सोमवार को हुई हिंसा में गोली लगने से एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। झड़प में एक पुलिसकर्मी समेत चालीस लोग घायल हुए थे। मृतक की पहचान पवन जाटव (28) के रूप में हुई थी।

बता दें कि सोमवार (2 अप्रैल) को एससी एसटी एक्ट में सुप्रीम कोर्ट के बदलाव वाले फैसले के खिलाफ दलित संगठनों ने भारत बंद बुलाया था। जिसके तहत देश के अलग-अलग हिस्सों में दलितों ने धरना प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने कई जगह ट्रेन रोकी, सड़कें जाम की। राजस्थान, मध्यप्रदेश, यूपी, बिहार, उत्तर प्रदेश और पंजाब के कई शहरों से हिंसा की भी खबरें आईं। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:rajasthan karrauli rajkumari jatav bharosilal jatav dalit leader houses burnt by mob after bharat bandh