DA Image
4 सितम्बर, 2020|9:48|IST

अगली स्टोरी

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के बाद राजनाथ सिंह से मिलीं वसुंधरा, राजस्थान में सियासी हलचल तेज

former rajasthan chief minister vasundhara raje has been quiet on rajasthan crisis  pti photo

राजस्थान में चल रहे सियासी उठापटक के बीच पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता वसुंधरा राजे ने शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। समझा जाता है कि दोनों नेताओं के बीच राजस्थान के राजनीतिक हालात पर चर्चा हुई। राजे पिछले कुछ दिनों से दिल्ली में हैं। उन्होंने शुक्रवार को बीजेपी अध्यक्ष जे पी नड्डा और पार्टी के संगठन महासचिव बी एल संतोष से भी मुलाकात की थी।

हालांकि इन मुलाकातों के दौरान वसुंधरा की पार्टी नेताओं से क्या चर्चा हुई, इस पर आधिकारिक रूप से कोई सूचना नही दी गई है।वसुंधरा की ये मुलाकातें इसलिए महत्वपूर्ण हो जाती हैं क्योंकि पिछले महीने से शुरू हुए राजनीतिक संकट के दौरान वह जयपुर में हुई बीजेपी की बैठकों से अलग रही हैं और उन्होंने पूरे घटनाक्रम पर चुप्पी साधे रखी।

ये भी पढ़ें: गुजरात पहुंचे बीजेपी विधायकों का राजस्थान की गहलोत सरकार पर बड़ा आरोप

गौरतलब है कि पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट और कांग्रेस के कुछ अन्य विधायकों के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बागी रुख अपनाने के कारण राजस्थान में पिछले कुछ हफ्तों से राजनीतिक उठापटक चल रही है। कांग्रेस आलाकमान ने पायलट को प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष और उप मुख्यमंत्री पदों से हटा दिया था।

राजस्थान विधानसभा का सत्र 14 अगस्त से आरंभ हो रहा है। संभावना है कि गहलोत इस दौरान विश्वास मत का प्रस्ताव ला सकते हैं। जानकारों का मानना है कि गहलोत के पास संख्याबल है और वे बहुमत साबित करने को लेकर आश्वस्त हैं। बीजेपी का एक वर्ग कांग्रेस के बागी विधायकों के समर्थन से गहलोत सरकार को गिराना चाहता है लेकिन सूत्रों की मानें तो वसुंधरा इसके पक्ष में नहीं हैं।

ये भी पढ़ें: राजस्थान संकट पर वसुंधरा ने की भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष से मुलाकात

दूसरी तरफ, राजस्थान से गुजरात के पोरबंदर पहुंचे बीजेपी के छह विधायकों ने गहलोत सरकार पर मानसिक तौर पर परेशान करने का आरोप लगाया है। बीजेपी विधायक निर्मल कुमावत ने कहा, राजस्थान में इस वक्त कई तरह की राजनीतिक गतिविधियां चल रही हैं। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास बहुमत नहीं है और इसलिए राज्य सरकार बीजेपी विधायकों को मानसिक तौर पर परेशान कर रही है। 

उन्होंने कहा कि इन परिस्थितियों में हमारे छह विधायक सोमनाथ मंदिर के दर्शन करने के लिए आए हैं। पोरबंदर एयरपोर्ट के बाहर मीडिया से बात करते हुए निर्मल कुमावत ने आगे कहा, कई विधायक हमारे साथ आएंगे। राजस्थान की कांग्रेस सरकार दबाव डाल रही है कि हमारे पक्ष में वोट करें। हम यहां पर अगले दो दिनों तक रहेंगे।

ये भी पढ़ें: राजस्थान:बागी विधायक बोले, हमारी लड़ाई कांग्रेस से नहीं, नेतृत्व से है

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Rajasthan Crisis former CM Vasundhara Raje meets Rajnath after JP Nadda political stir in Rajasthan