Rajasthan assembly election victory margin in 10 seats less than 1000 votes - राजस्थान विधानसभा चुनावः 10 सीटों पर जीत का अंतर 1000 वोटों से भी कम DA Image
16 नबम्बर, 2019|5:05|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

राजस्थान विधानसभा चुनावः 10 सीटों पर जीत का अंतर 1000 वोटों से भी कम

राजस्थान चुनाव 2018: चुनावी मैदान में हैं कांग्रेस के 3 तो बीजेपी के एक सांसद

राजस्थान की चुनावी जंग में कम से कम 10 सीटों पर कांटे की टक्कर देखने को मिली। इन सीटों पर जीत का अंतर हजार मतों से भी कम का रहा। इन 10 सीटों में सबसे कम जीत का अंतर 154 वोटों का रहा। राज्य में कांग्रेस नीत गठबंधन को मामूली बहुमत हासिल हुआ है। निवार्चन आयोग के मुताबिक, भीलवाड़ा जिले में असिंद सीट से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रत्याशी जब्बर सिंह सांखला ने महज 154 वोटों के मामूली अंतर से अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के मनीष मेवाड़ा से सीट छीन ली।

सांखला को 70,249 वोट मिले, जबकि मेवाड़ा को 70,095 वोट हासिल हुए। मारवाड़ निवार्चन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार खुशवीर सिंह ने भाजपा के केसराम चौधरी को 251 मतों के अंतर से हराया। सिंह को 58,921 वोट मिले, तो चौधरी को 58,670 मतों से संतोष करना पड़ा।

पीलीबंगा (एससी) सीट से भाजपा के धमेर्ंद्र कुमार भी किस्मत वाले रहे और उन्होंने कांग्रेस के विनोद कुमार को 278 वोटों से शिकस्त दी। धर्मेंद्र कुमार को 1,06,414 वोट मिले, जबकि कांग्रेस प्रत्याशी को 1,06,136 वोट मिले। यहां और भी छह अन्य नेता हैं, जिनकी जीत का अंतर हजार वोटों से भी कम रहा है।

मात्र 1.70 लाख वोटों ने भाजपा को सत्ता से बेदखल किया

राजस्थान में जीत का परचम लहराने वाली कांग्रेस को कुल 1,39,35, 201 वोट मिले, जबकि भाजपा को 1,37,57,502 वोट मिले हैं। ऐसे में 1.70 लाख से कुछ ज्यादा वोटों के अंतर से भाजपा यहां सत्ता से बाहर हो गई। राज्य विधानसभा के 199 निवार्चन क्षेत्रों में कांग्रेस को 39.3 फीसदी वोट मिले और भारतीय जनता पार्टी को 38.8 फीसदी वोट मिले। इस तरह बहुत ही कम अंतर से मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को अपनी कुर्सी गंवानी पड़ी।

राजस्थान के मुख्य निवार्चन अधिकारी आनंद कुमार ने बुधवार को कहा कि 4,67,781 लाख वोट नोटा (नन ऑफ द एबव) में पड़े, जो कुल वोटों का 1.3 फीसदी है। निर्दलीयों को 9.5 फीसदी वोट (33,72,206) और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को चार फीसदी (14,10,995 मत) वोट मिले। 

राजस्थान में सात दिसंबर को कुल 74.69 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। आंकड़ों से पता चलता है कि निर्दलीयों और बसपा ने कांग्रेस व भाजपा का खेल बिगाड़ने का काम किया। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी को .2 फीसदी वोट मिले और इतना ही समाजवादी पार्टी को मिले।

राज्य में कांग्रेस सरकार बनाने की तैयारी कर रही है।

राजस्थान, छत्तीसगढ़-एमपी में कौन होगा सीएम? फैसला करेंगे राहुल गांधी

MP: शिवराज के 13 मंत्रियों को मात, चार कांग्रेस नेता भी हुए चित

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rajasthan assembly election victory margin in 10 seats less than 1000 votes