Rains in north eastern India bring relief from heat as monsoon progresses further - उत्तर-पूर्वी भारत में मानसून की बारिश, लोगों को मिली गर्मी से राहत DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उत्तर-पूर्वी भारत में मानसून की बारिश, लोगों को मिली गर्मी से राहत

monsoon

मानसून के देश के सभी हिस्सों में पहुंचने पर उत्तरी और पूर्वी भारत के कई क्षेत्रों में शनिवार को बारिश हुई जिससे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि राजस्थान में पांच जिलों को छोड़कर सभी हिस्सों में मानसून पहुंचा चुका है। कई स्थानों पर शुक्रवार से लेकर अब तक छह से 14 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। उन्होंने बताया कि जयपुर, अजमेर और कोटा में शनिवार को अच्छी बारिश हुई।

शनिवार तक राज्य के पांच जिलों चुरू, हनुमानगढ़, श्रीगंगानगर, बीकानेर और जैसलमेर के अलावा सभी जिलों में मानसून की पहली बारिश हो चुकी है। शनिवार सुबह से लेकर शाम तक अजमेर में 26.8 मिमी, जयपुर में 71.3 मिमी और कोटा में 37.6 मिमी बारिश हुई।  बीकानेर 43 डिग्री सेल्सियस तापमान के साथ राज्य में सबसे गर्म स्थान रहा। इसके बाद जैसलमेर (41.8), बाड़मेर (40.8) और श्रीगंगानगर (40.5) रहे।

मौसम हुआ सुहाना, रुक-रुक कर होती रही बारिश

राष्ट्रीय राजधानी में बादल छाने से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली। मौसम विभाग के अधिकारियों ने बताया कि शनिवार को दिल्ली में अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 26.5 डिग्री से. दर्ज किया गया। विभाग ने बताया कि पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में भी बारिश हुई। दोनों की संयुक्त राजधानी चंडीगढ़ में 21.2 मिलीमीटर बारिश हुई।

चंडीगढ़ में अधिकतम तापमान 36.2 डिग्री सेल्सियस और आर्द्रता का स्तर 92 प्रतिशत दर्ज किया गया। पंजाब में पटियाला में 29 मिमी. बारिश हुई और अधिकतम तापमान 36.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अमृतसर में भी बारिश हुई और दिन का तापमान 33 डिग्री से. दर्ज किया गया जबकि लुधियाना में अधिकतम तापमान 34.6 डिग्री से. दर्ज किया गया।

हरियाणा में अंबाला और हिसार में भी बारिश हुई और वहां अधिकतम तापमान क्रमश: 36.9 डिग्री से. और 37.8 डिग्री से. दर्ज किया गया। करनाल और नारनौल में अधिकतम तापमान क्रमश: 35 डिग्री से. और 36.5 डिग्री से. दर्ज किया गया।

हिमाचल प्रदेश के कई हिस्सों में शनिवार को मध्यम बारिश हुई। हालांकि वहां आगामी दिनों में भारी से अत्यधिक भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।
शिमला मौसम केंद्र ने सात जुलाई से 12 जुलाई तक मैदान, निम्न और मध्यम पर्वतीय क्षेत्रों में बारिश और उच्च पर्वतीय क्षेत्र में हिमपात का अनुमान जताया है।
मौसम विभाग ने 7 से 9 जुलाई तक भारी बारिश के लिए 'येलो' चेतावनी और 8 जुलाई को अत्यधिक भारी बारिश के लिए 'ओरेंज' चेतावनी जारी की है।

राज्य में सबसे अधिक तापमान ऊना में 37.8 डिग्री से. और सबसे कम केलोंग में 10 डिग्री से. दर्ज किया गया। एक सप्ताह की देरी के बाद जम्मू शनिवार को मानसून की बारिश से भीगा जिससे लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिली। पिछले पखवाड़े में पहली बार पारा मौसम के औसत से कई डिग्री तक गिर गया। जम्मू में दिन में 7.6 मिमी. बारिश दर्ज की गई। बारिश के कारण जम्मू में अधिकतम तापमान 34.4 डिग्री से. पर पहुंच गया। श्रीनगर में भी पारा गिरा। रातभर की बारिश के बाद अधिकतम तापमान 28.1 डिग्री से. और न्यूनतम तापमान 17.7 डिग्री से. दर्ज किय गया।

उत्तर प्रदेश में मानसून पूरी तरह सक्रिय हो गया है और पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य के अनेक इलाकों में बारिश हुई। आंचलिक मौसम केन्द्र की रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कई हिस्सों में वर्षा हुई। कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश भी हुई। इस दौरान भिनगा में सबसे ज्यादा 23 सेंटीमीटर वर्षा दर्ज की गयी।

इसके अलावा फतेहपुर में 14 सेंटीमीटर, इलाहाबाद में 13, काकरधारी घाट में 12, भटपुरवाघाट तथा कानपुर में 11-11, बांदा और इटावा में 10-10, सिधौली, हरदोई, करछना, उन्नाव और सहसवान में नौ-नौ, कानपुर, बहराइच, मिश्रिख, हाथरस, झांसी, इटावा, कासगंज और औरैया में सात-सात सेंटीमीटर वर्षा रिकार्ड की गयी। बारिश की वजह से अधिकतम तापमान में भी गिरावट आयी। पिछले 24 घंटों के दौरान मुरादाबाद, आगरा तथा झांसी मण्डलों में दिन के तापमान में खासी कमी दर्ज की गयी।

हालांकि वाराणसी, इलाहाबाद, लखनऊ, मुरादाबाद, गोरखपुर, फैजाबाद और बरेली मण्डलों में यह सामान्य से अधिक रहा। अगले 24 घंटों के दौरान राज्य के पूर्वी भागों में अनेक स्थानों तथा पश्चिमी हिस्सों में ज्यादातर इलाकों में बारिश होने का अनुमान है। कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा भी हो सकती है। यह सिलसिला नौ जुलाई तक जारी रहने की सम्भावना है।

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, झारखंड और बिहार में कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी बारिश हुई। ओडिशा के कटक में 13 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि केंद्रपाड़ा में 10 सेंटीमीटर बारिश हुई। गोवा, मध्य महाराष्ट्र और गुजरात में कई स्थानों पर बारिश हुई। आईएमडी के अनुसार, महाराष्ट्र में रायगढ़ जिले के माथेरान में 21 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि सतारा जिले में महाबलेश्वर में 11 सेंटीमीटर बारिश हुई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Rains in north eastern India bring relief from heat as monsoon progresses further