DA Image
5 जून, 2020|1:58|IST

अगली स्टोरी

रेलवे ने साफ किया- लॉकडाउन के बीच आरक्षण को लेकर न उड़ाएं अफवाह

incident  kotwali  railway

कोरोना वायरस के कहर के चलते दुनियाभर का बुरा हाल है। इसके लिए भारत को भी 21 दिनों के लिए लॉकडाउन कर दिया गया है। इस बीच रेल मंत्रालय की ओर से एक बयान आया है। भारतीय रेल ने ट्वीट के जरिए कहा है कि- कुछ मीडिया रिपोर्टों में दावा किया गया है कि रेलवे ने पोस्ट-लॉकडाउन अवधि के लिए आरक्षण शुरू कर दिया है। हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि 14 अप्रैल के बाद की यात्रा के लिए आरक्षण कभी रोका ही नहीं गया थाऔर किसी भी नई घोषणा से इसका संबंध नहीं है।

दुनिया के साथ भारत में भी कोरोना के चलते बुरा हाल है। दिल्ली के निजामुद्दीन तबलीगी जमात मरकज की वजह से कोरोना वायरस के मामलों में अचानक बड़ा उछाल आया है। देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या 2 हजार के पार चली गई है। इनमें से 358 केस मरकज से जुड़े हुए हैं। इतना ही नहीं मरकज से जुड़े करीब 8 हजार लोगों में संक्रमण का खतरा है। डराने वाली बात यह है कि ये लोग देश के अलग-अलग कोने में फैल चुके हैं।

25 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, ऐसे 8,500 लोगों की पहचान की गई है, जो मरकज से जुड़े हैं। इसके अलावा 2,346 लोग दिल्ली में मरकज की इमारत से निकाले गए हैं। इनमें से 531 लोगों को कोरोना वायरस के लक्षण दिखने की वजह से अस्पतालों में भर्ती किया गया है, जबकि अन्य को क्वारंटाइन किया गया है।

श्व के अधिकांश (अब तक 185) देशों में फैल चुके कोरोना वायरस (कोविड 19) का प्रकोप थमने का नाम नहीं ले रहा है और इस खतरनाक वायरस से दुनिया भर में अब तक 41355 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि करीब 838445 लोग इससे संक्रमित हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Railways made clear do not blow up rumors about reservation amid lockdown